भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों में एक बार फिर तेजी आई है. देश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 4518 नए केस सामने आए हैं, और 9 संक्रमितों की मौत हुई है. इस अवधि के दौरान कोरोना से संक्रमित 2779 लोग ठीक हुए हैं. देश में कोरोना वायरस से अब तक संक्रमित हो चुके लोगों की संख्या बढ़कर 4,31,81,335 हो गई ​है, वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 25,782 पर पहुंच गई, जो कुल मामलों का 0.06 प्रतिशत है. सबसे ज्यादा नए केस केरल और महाराष्ट्र में मिले हैं.

कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा नए केस रिपोर्ट करने वाले पांच राज्यों में केरल (1544), महाराष्ट्र में (1494), दिल्ली (343), कर्नाटक में (301) और हरियाणा (148) हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह 8 बजे जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या 5,24,701 हो गई है. इससे पहले रविवार को देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 4270 नए मामले सामने आए थे. यानी बीते दिन के मुकाबले आज संक्रमितों की संख्या में 248 की या 5.8 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. हालांकि, कल के मुकाबले आज मौतों में कमी दर्ज की गई है. रविवार को देश में कोरोना से 15 मौतें हुई थीं.

टीकों की 194.12 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है

आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 1,730 की बढ़ोतरी दर्ज की गई. वहीं, मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.73 प्रतिशत है. अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, दैनिक संक्रमण दर 1.62 प्रतिशत, जबकि साप्ताहिक संक्रमण दर 0.91 प्रतिशत है. देश में अभी तक कुल 4,26,30,852 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 से मृत्यु दर 1.22 प्रतिशत है. राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 194.12 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है.

गौरतलब है कि देश में 7 अगस्त 2020 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और 5 सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी. संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे. देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले 1 करोड़ से अधिक हो गए थे. पिछले साल 4 मई को संक्रमितों की संख्या 2 करोड़ और 23 जून 2021 को 3 करोड़ के पार पहुंच गई थी. इस साल 26 जनवरी को मामले 4 करोड़ के पार हो गए थे.