विमान ईंधन की कीमतों में वृद्धि का असर दिखाई देने लगा है. तेल की मार के असर को कम करने के लिए विमानन कंपनियों ने यात्री किराये (Air fare) में इजाफा कर दिया है. विमानन कंपनियों के इस कदम से कुछ रूट्स पर तो हवाई किराया करीब दोगुना हो गया है.

दिल्ली-मुंबई, हैदराबाद-दिल्ली और चेन्नई-दिल्ली जैसे व्यस्त मार्गों पर औसत किराया एक साल पहले की तुलना में 50 से 60 प्रतिशत अधिक हो गया है.

21 से 31 मार्च के बीच भारत के सबसे व्यस्त मार्ग दिल्ली से मुंबई के लिए उड़ान भरने की योजना बना रहे यात्रियों को एकतरफा टिकट (One way ticket Fare) के लिए लगभग 7,956 रुपये का भुगतान करना होगा. ऑनलाइन ट्रैवल पोर्टल Ixigo के आंकड़ों से पता चलता है कि यह किराया एक साल पहले के किराए की तुलना में लगभग 60% अधिक है.

डिमांड पर असर नहीं

इसी अवधि के लिए हैदराबाद-दिल्ली, चेन्नई-दिल्ली और मुंबई-बेंगलुरु मार्गों पर उड़ान भरने के लिए एकतरफा टिकट की कीमत क्रमशः 8,253 रुपये, 9,767 रुपये और 6,469 रुपये है. यह किराया एक साल पहले के किराए की तुलना में क्रमशः 60%, 64% और 44% अधिक है. कोलकाता-दिल्ली का किराया 43 फीसदी और दिल्ली-बेंगलुरु का किराया 36 फीसदी बढ़ा है.

इक्सिगो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आलोक बाजपेयी के मुताबिक, जेट ईंधन की कीमतों में रिकॉर्ड वृद्धि के चलते व्यस्त मार्गों के हवाई किराए में वृद्धि हुई है. हालांकि, बढ़ते हवाई किराए के बावजूद आने वाले गर्मी के मौसम के लिए घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्रा, दोनों की मांग मजबूत हो रही है.

छठी बार बढ़े हवाई ईंधन के दाम

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी के चलते सरकारी तेल कंपनियों ने विमान ईंधन (ATF) के दाम बढ़ा दिए हैं. पिछले सप्ताह हवाई ईंधन की कीमतों में ऐतिहासिक उछाल आया और पेट्रोलियम कंपनियों ने एटीएफ के दामों में 17,135.63 रुपये प्रति किलोलीटर का इजाफा कर दिया. दिल्ली में एटीएफ 18.3 फीसदी महंगा हुआ है और नई कीमत 1,10,666 रुपये प्रति किलोलीटर है.

कोलकाता में जेट फ्यूल की कीमत 1,14,979 रुपये प्रति किलोलीटर है. चेन्नई में 1,14,133 रुपये, दिल्ली में 1,10,666 रुपये और मुंबई में 109,119 रुपये प्रति किलोलीटर पहुंच गई है. इस साल छठी बार एटीएफ की कीमत में बढ़ोतरी की गई है.