सरकार ने टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर (TSP) को 5जी स्पेक्ट्रम का असाइनमेंट लेटर सौंप दिया है. इसके साथ ही कंपनियों से 5G लॉन्च की तैयारी को आखिरी रूप देने के लिए भी कहा गया है. इस स्पेक्ट्रम आवंटन के साथ भारत हाई-स्पीड 5G दूरसंचार सेवाओं को शुरू करने के अंतिम चरण में है.

इस बारे में केंद्रीय संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, “5जी अपडेट: स्पेक्ट्रम असाइनमेंट लेटर जारी किया गया. TSPs से 5जी लॉन्च की तैयारी के लिए भी कहा गया है.”

स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के नाम अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सरकार 5G, सेमीकंडक्टर निर्माण और ऑप्टिकल फाइबर केबल जैसी तकनीकों पर ध्यान केंद्रित कर रही है. पीएम मोदी ने कहा था कि ये टेक्नोलॉजीज़ जमीनी स्तर पर क्रांति लाएंगी.

JIO हजार शहरों में लॉन्च करेगा 5G सेवा

देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी जियो (JIO) ने करीब 1,000 शहरों में 5जी सेवाएं शुरू करने की तैयारियां पूरी करने के साथ स्वदेश में विकसित अपने 5जी दूरसंचार उपकरणों का परीक्षण भी किया है. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा है कि उसकी दूरसंचार इकाई जियो ने वित्त वर्ष 2021-22 में अपनी शत-प्रतिशत स्वदेशी तकनीक के साथ 5जी सेवाओं के लिए खुद को तैयार करने की दिशा में कई कदम उठाए हैं.

5G स्पेक्ट्रम नीलामी में JIO ने लगाई थी सबसे बड़ी बोली

हाल में संपन्न 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी में रिलायंस जियो सबसे बड़ी बोलीकर्ता के रूप में उभरी है. नीलामी में लगाई 1.50 लाख करोड़ रुपये की बोलियों में से जियो ने अकेले 88,078 करोड़ रुपये की बोलियां लगाई थीं.