तीन साल बाद एक बार फिर विमानन कंपनी जेट एयरवेज के विमान फ्लाइट्स भरने के लिए तैयार हैं. एविएशन रेगुलेटर डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन यानी डीजीसीए ने जेट एयरवेज को फिर से संचालन शुरू करने के लिए एयर ऑपरेटर सर्टिफिकेट यानी एओसी दे दिया है.

अप्रैल, 2019 से बंद पड़ी थी जेट एयरवेज

अप्रैल, 2019 से बंद पड़ी हुई जेट एयरवेज नए प्रमोटर जालान-कलरॉक कंसोर्टियम के मातहत फिर से परिचालन शुरू करने की प्रक्रिया में है. जालान-कालरॉक कंसोर्टियम फिलहाल जेट एयरवेज के प्रमोटर हैं. पहले इस एयरलाइन का स्वामित्व नरेश गोयल के पास था और उन्होंने 17 अप्रैल, 2019 को इसकी अंतिम फ्लाइट संचालित की थी.

हाल ही में गृह मंत्रालय ने ग्राउंडेड कैरियर जेट एयरवेज को सुरक्षा मंजूरी दी थी.

शुरुआती दौर में महिला केबिन क्रू के साथ होगा परिचालन

हाल ही में जेट एयरवेज के प्रवक्ता ने कहा था, ‘‘अभी मौजूदा स्टार्टअप चरण में हमारे केबिन क्रू में केवल महिलाएं हैं. लेकिन सबको समान अवसर देने वाले नियोक्ता के रूप में हमारे पास आगे चलकर केबिन क्रू के रूप में पुरुष भी होंगे.’’