रमज़ान का पाक महीना चल रहा है ये महीना दान,त्याग और सब्र की भावनाओं से भरा होता है इस महीने को बरक़त का महीना भी कहा जाता है. इसी खास महीने को ध्यान में रखते हुए सामाजिक कार्यकर्ता सोहैल सैफी ने सामूहिक इफ्तार के कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें बहुत बड़ी संख्या में इलाके के लोग शामिल रहें. इस इफ्तार कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर दयालपुर थाने के एसएचओ मौजूद रहें.

इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम को होस्ट कर रहें जमील सैफी जी ने इस मौके पर कहा कि “सैफी काउंट संस्था के ज़रिए हम लोग मिल जुल कर इलाके के और आस पास के सभी वर्गों और धर्मों के लोगों की भलाई और बेहतरी के लिए लगातार काम कर रहे हैं और इसी तरह से करते भी रहेंगें. सैफी काउंट का ये मिशन भी है और कोशिश भी है.

इस इफ्तार के कार्यक्रम का आयोजन मुस्तफाबाद गली नम्बर 6 में एनजीओ सोफ़िया के ऑफिस में हुआ था.  “सैफी काउंट” की ऐनुअल मीटिंग और साथ ही इफ्तार की दावत का ये कार्यक्रम साथ साथ मे हुआ था. इस मौके पर मुस्तफाबाद और आस पास के इलाके के ज़िम्मेदार लोग यहां शामिल हुए और हिन्दू और मुस्लिमों ने मिल जुल कर देश में अमन और एकता क़ायम करने की दुआएं मांगी.

मुख्य अतिथि के तौर पर इफ्तार के कार्यक्रम में मौजूद रहे थाना अध्यक्ष गिरीश जैन जी ने इलाके के लोगों से मुख़ातिब होकर समाज मे अमन और भाईचारे को बनाने की अपील भी की. उन्होंने कहा कि “ये रमज़ान का पाक महीना चल रहा है और ये महीना हमें ये सीख देता है कि आपस मे भाईचारा और सद्भाव बनाया जाए,इसलिए आप सभी से गुज़ारिश है आप सभी सद्भाव बनाने में दिल्ली पुलिस के सहयोग दें,हम हमेशा आपके साथ हैं”

इस अमन और भाईचारे के कार्यक्रम में बहुत से लोगों ने शामिल हो कर एक साथ दुआऐं मांगी और इफ्तार भी किया. मेहमानों में मास्टर शेर मोहम्मद, यूनुस सैफी,हाजी नईम मलिक, इरफान सैफी,मास्टर अली सैफी,रईस सैफी,इक़बाल सैफी अहमद नदीम, जुबेर सैफी, मो. सलमान,आरिफ सैफी, शकील सैफी, सुभाषिनी रतन,शोभा,बबीता समेत कई लोग इफ्तार पार्टी के कार्यक्रम में शामिल हुए.