भारतीय शेयर बाजार में बुधवार को शुरुआत से ही तेजी का रुख दिखा. ग्‍लोबल मार्केट के सहारे निवेशकों का पॉजिटिव सेंटिमेंट प्री-ओपनिंग सेशन से ही मजबूत दिख रहा है.

सेंसेक्‍स ने सुबह कारोबार की शुरुआत 278 अंकों की बढ़त के साथ 56,741 पर खुलकर की जबकि निफ्टी ने भी 86 अंकों की तेजी के साथ 17,045 पर खुलकर ट्रेडिंग शुरू किया. निवेशकों ने बाजार खुलने के बाद खरीदारी को और तेज कर दिया जिससे दोनों ही एक्‍सचेंज पर बढ़त और ज्‍यादा हो गई. सुबह 9.30 बजे सेंसेक्‍स 396 अंक चढ़कर 56,858 पर पहुंच गया जबकि निफ्टी 125 अंकों की तेजी के साथ 17,084 पर कारोबार कर रहा था.

इन स्‍टॉक्‍स में जमकर खरीदारी

निवेशकों ने शुरुआती कारोबार में ही Coal India, Eicher Motors, Tata Motors, Maruti Suzuki और Reliance Industries के शेयरों पर जमकर दांव लगाया. लगातार खरीदारी से ये स्‍टॉक टॉप गेनर की सूची में आए. दूसरी ओर, Kotak Mahindra Bank, Apollo Hospitals, Cipla, HUL और HDFC Life के शेयरों पर बिकवाली हावी दिखी. ये स्‍टॉक गिरकर टॉप लूजर की सूची में चले गए.

कारोबार के दौरान बीएसई मिडकैप और स्‍मॉलकैप में 0.3 फीसदी की तेजी दिख रही है. सेक्‍टरवाइज देखें तो ऑटो, एफएमसीजी, मीडिया, रियल एस्‍टेट, आईटी और ऑयल एंड गैस के शेयरों में आज 1 फीसदी तक उछाल दिख रहा है. वहीं बैंक और फाइनेंशियल सेक्‍टर में गिरावट दिख रही. ACC सीमेंट के सालाना प्रॉफिट में 30 फीसदी गिरावट के बावजूद कंपनी के शेयरों में 1 फीसदी का उछाल है. वहीं, महिंद्रा लाइफस्‍पेस में 2 फीसदी की गिरावट दिख रही.

ग्‍लोबल मार्केट में यूरोप को छोड़कर सभी जगह तेजी

अगर ग्‍लोबल मार्केट की बात करें तो सिर्फ यूरोपीय शेयर बाजार में ही गिरावट दिख रही है. अमेरिका के प्रमुख स्‍टॉक एक्‍सचेंज Nasdaq 2.15 फीसदी की जोरदार बढ़ रही, जबकि एशिया में सिंगापुर का बाजार 1.04 फीसदी, जापान का निक्‍केई 0.63 फीसदी, हांगकांग 0.75 फीसदी, ताइवान 0.32 फीसदी की बढ़त पर कारोबार कर रहा. हालांकि, दक्षिण कोरिया का बाजार 0.05 फीसदी और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.21 फीसदी नुकसान पर कारोबार कर रहे हैं.

यूरोपीय बाजारों में जर्मनी का स्‍टॉक एक्‍सचेंज 0.07 फीसदी तो फ्रांस का 0.83 फीसदी और लंदन का स्‍टॉक एक्‍सचेंज 0.20 फीसदी नुकसान पर ट्रेडिंग कर रहे. यूरोपीय बाजारों में गिरावट का प्रमुख कारण रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से तेल-गैस सहित तमाम कमोडिटी की सप्‍लाई बाधित होना है.