भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की रफ्तार एक बार फिर बढ़ने लगी है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना संक्रमण के 2067 नए मामले दर्ज किए गए हैं. इस दौरान कोरोना संक्रमण से 40 मौतें हुई हैं. इस तरह बीते 24 घंटे में कोविड-19 के नए मामलों में 65.7 प्रतिशत का उछाल आया है. बीते दो साल में देश में कोरोना संक्रमण के 4,30,47,594 मामले समाने आ चुके हैं. वहीं इस वायरस की वजह से होने वाली मौतों का आंकड़ा 5,22,006 पहुंच गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक भारत में कोरोना संक्रमण के 12,340 सक्रिय मामले हैं.

देश में अब तक कोविड-19 वैक्सीन की 1,86,90,56,607 खुराक लग चुकी है. बीते 24 घंटे में कोरोना वैक्सीन की 17,23,733 डोज लगाई गई है. कोरोना से पिछले 24 घंटे में 1547 लोग ठीक हुए हैं. इसके साथ ही ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 4,25,13,248 हो गई है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 19 अप्रैल को भारत में कोरोना संक्रमण के 1,247 नए मामले दर्ज किए गए थे. वर्तमान में देश में कोरोना रिकवरी रेट 98.76% है. वहीं डेली पॉजिटिवटी रेट 0.49% और विकली पॉजिटिवटी रेट 0.38% है.

केन्द्र सरकार ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र और मिजोरम को कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए कड़ी निगरानी बरतने और चिंता वाले क्षेत्रों में जरूरत पड़ने पर पहले से ही कदम उठाने के सुझाव दिए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने एक पत्र में दिल्ली समेत 4 राज्यों को ‘जांच, पहचान, उपचार, टीकाकरण और कोविड उपयुक्त व्यवहार के पालन’ की 5 सूत्रीय रणनीति पर काम करने की सलाह दी. साथ ही पत्र में कहा गया है कि ये राज्य अपने यहां भीड़भाड़ वाले स्थानों पर लोगों द्वारा फेस मास्क के उपयोग पर विशेष जोर दें.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के पत्र में कहा गया, ‘यह आवश्यक है कि राज्य सख्त निगरानी बनाए रखें और कोरोना वायरस संक्रमण के कहीं भी हो रहे प्रसार को रोकने के लिए चिंता वाले स्थानों पर जरूरत पड़ने पर पहले ही कदम उठाएं. किसी भी स्तर पर ढिलाई अब तक कोविड-19 प्रबंधन में हासिल की गई उपलब्धियों को परास्त कर देगी.’ गौरतलब है कि उपरोक्त राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में काफी तेजी देखी गई है. राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक नए मामले सामने आ रहे हैं. दिल्ली से सटे नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और फरीदाबाद में भी कोविड-19 संक्रमण में तेजी आई है.