दिल्लीवालों को आज डबल झटका लगा है. दिल्ली-एनसीआर के लोगों को महंगाई अब रसोई से लेकर बाहर तक परेशान करने लगी है. दिल्ली-एनसीआर में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से थोड़ी राहत मिली ही थी कि आज पीएनजी के बाद सीएनजी के दाम में भी इजाफा हो गया. दिल्ली-एनसीआर में आज यानी गुरुवार को सीएनजी के दाम में 2.50 रुपये प्रति किलोग्राम की वृद्धि की गई है. बीते एक महीने में सीएनजी के दाम 11वीं बार बढ़ाए गए हैं.

इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (आईजीएल) की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीटी) में सीएनजी की कीमत 69.11 रुपये प्रति किलोग्राम से बढ़कर 71.61 रुपये प्रति किलो हो गई है. आईजीएल राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में सीएनजी और पाइप से रसोई गैस (पीएनजी) की खुदरा बिक्री करती है. यहां बताना जरूरी है कि दिल्ली-एनसीआर में पीएनजी की कीमतों में भी 4.25 रुपए प्रति एससीएम का इजाफा हुआ है.

दिल्ली-एनसीआर में सीएनजी की अब क्या कीमत

-दिल्ली में सीएनजी की कीमत-71.61 रुपए प्रति किलो

-नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में सीएनजी की कीमत -74.17 रुपये प्रति किलो.

– मुजफ्फरनगर, मेरठ और शामली में सीएनजी की कीमत 78.74 रुपये प्रति किलो.

-हरियाणा के गुरुग्राम में 79.94 रुपये किलो.

-रिवाड़ी में सीएनजी कीमत 82.7 रुपये प्रति किलो.

-करनाल और कैथल में 80.27 रुपये प्रति किलो.

कुल मिलाकर बीते एक महीने में सीएनजी के दाम करीब 15 रुपये प्रति किलो बढ़ गए हैं. समाचार एजेंसी पीटीआई के आंकड़ों की मानें तो एक साल में सीएनजी की कीमतों में करीब 27 रुपये प्रति किलो या 60 फीसदी की वृद्धि की गई है. सरकार ने एक अप्रैल से प्राकृतिक गैस की कीमतों को दोगुना से अधिक कर 6.1 डॉलर प्रति 10 लाख ब्रिटिश थर्मल यूनिट (प्रति इकाई) कर दिया है. इसके बाद सीएनजी और पीएनजी की कीमतों में वृद्धि हुई है.

दिल्ली-एनसीआर में पीएनजी के दाम में भी बढ़ोतरी

आईजीएल के मुताबिक, दिल्ली एनसीआर में पीएनजी के दाम में सवा चार रुपए की बढ़ोतरी की गई है. दाम बढ़ने के बाद दिल्ली में पीएनजी की कीमत 45.86 रुपये प्रति यूनिट और नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में 45.96 रुपये प्रति यूनिट होगी. जबकि गुरुग्राम में लोगों को 44.06 रुपये प्रति एससीएम देना होगा. इससे पहले 1 अप्रैल को आईजीएल ने कंप्रेस्ड नेचुरल गैस (सीएनजी) की कीमत में 80 पैसे प्रति किलोग्राम और पीएनजी की कीमत में 5.85 रुपये प्रति क्यूबिक मीटर (16.5 फीसदी) की बढ़ोतरी की थी.