देश में भले ही साप्ताहिक कोरोना मामलों (वीकली कोरोना केस) में गिरावट जारी है, मगर दिल्ली-हरियाणा में इसकी रफ्तार बढ़ती ही जा रही है. दिल्ली और हरियाणा में जिस रफ्तार से केस बढ़ रहे हैं, उससे डर फिर से बढ़ने लगा है. दिल्ली में बीते कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में उछाल जारी है और दैनिक आंकड़ा डेढ़ सौ के करीब पहुंच चुका है. इस तरह से दिल्ली में जहां वीकली केसों में 26 फीसदी तो हरियाणा में 50 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है. दिल्ली में रविवार को जहां 141 नए मामले दर्ज किए गए, वहीं एक मरीज की भी मौत हुई है.

आंकड़ों की मानें तो दिल्ली ने एक सप्ताह के दौरान नए मामलों में 26% की वृद्धि दर्ज की है. तीसरी लहर के पीक के बाद से संक्रमण में गिरावट के उलट राजधानी ने पिछले सात दिनों में 751 से 943 नए मामले दर्ज किए. टेस्टिंग की संख्या कम होने के साथ दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट बीते कई दिनों से 1 फीसदी से ऊपर दर्ज किया जा रहा है.

दिल्ली की तरह ही हरियाणा का भी हाल है. पड़ोसी राज्य हरियाणा ने सप्ताह के दौरान मामलों में अधिक वृद्धि दर्ज की. कोरोना वायरस के नए संक्रमण पिछले सप्ताह के 344 से लगभग 50% बढ़कर 514 हो गए. बता दें कि 13 जनवरी को दिल्ली में कोरोना वायरस के रिकॉर्ड 28867 मामले सामने आए थे, इसके बाद केसों की संख्या में गिरावट दर्ज की गई थी. दिल्ली में 14 जनवरी को संक्रमण दर 30.6 प्रतिशत दर्ज की थी. दिल्ली में कोरोना की जांच के लिए रविवार को 6114 टेस्ट हुए जिसमें 1.34 फीसदी मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए

देश में कितने मामले

भारत में एक दिन में कोविड-19 के 1,054 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना वायरस से अब तक संक्रमित हो चुके लोगों की संख्या बढ़कर 4,30,35,271 हो गई, जबकि 29 और लोगों की मौत से मृतकों की संख्या बढ़कर 5,21,685 पर पहुंच गई है. आंकड़ों के अनुसार, दैनिक संक्रमण दर 0.25 प्रतिशत और साप्ताहिक संक्रमण दर 0.23 प्रतिशत है. देश में अब तक कुल 4,25,02,454 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.

कब कितने लाख मामले सामने आए

गौरतलब है कि देश में सात अगस्त 2020 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे. देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ के पार हो गए थे. पिछले साल चार मई को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी. इस साल 26 जनवरी को मामले चार करोड़ के पार पहुंच गए थे.