दुनिया में इन दिनों कोरोना वायरस संक्रमण फिर से उछाल मार रहा है. इसके नए वेरिएंट एक्‍सई के फैलने का खतरा भी बढ़ गया है. इस बीच स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से शनिवार को जारी आंकड़ों के अनुसार देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1150 नए मामले दर्ज किए गए हैं. शुक्रवार की तुलना में ये नए मामले अधिक हैं. शुक्रवार को कोरोना के 1109 नए केस आए थे.

शनिवार को स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण से 83 लोगों की मौत हुई है. इसके साथ ही देश में कोरोना से मरने वालों का कुल आंकड़ा बढ़कर 5,21,656 हो गया है. वहीं कोरोना के सक्रिय केस की संख्‍या 11365 है. देश में पिछले 24 घंटे में 1194 लोगों को कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दी गई है.

इसके साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 10 अप्रैल से निजी टीकाकरण केंद्रों में 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए कोविड-19 टीके की एहतियाती खुराक उपलब्ध कराए जाने की घोषणा की है. मंत्रालय ने कहा है कि 18 वर्ष से अधिक उम्र के ऐसे सभी लोग, जिन्हें टीके की दूसरी खुराक लगवाये नौ महीने हो गए हैं वे एहतियाती खुराक के लिए पात्र होंगे.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि यह निर्णय किया गया है कि कोविड-19 की एहतियाती खुराक निजी टीकाकरण केंद्रों में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए उपलब्ध कराई जाएगी. यह सुविधा सभी निजी टीकाकरण केंद्रों में होगी. इसे लेकर टीका निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने शुक्रवार को कहा है कि उसकी कोविड-19 रोधी कोविशील्ड टीके की एहतियाती खुराक की कीमत पात्र व्यक्तियों के लिए 600 रुपये प्रति टीका होगी.

एसआईआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अदार पूनावाला ने 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी पात्र लोगों को निजी टीकाकरण केंद्रों पर टीके की एहतियाती खुराक की अनुमति देने के सरकार के कदम का स्वागत करते हुए कहा कि यह आगे वायरस के खिलाफ दीर्घकालिक सुरक्षा प्रदान करेगा और इससे यात्रा में सुगमता होगी.