महंगाई ने मानो चारों तरफ से हमला किया है. पेट्रोल-डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं, सीएनजी भी पिछले 6 महीनों में 30% से ज्यादा महंगी हो गई है, खाने-पीने की चीजों के दाम भी बढ़े हैं और अब 1 अप्रैल, मतलब कल, से टोल प्लाजा पर आना-जाना पहले से महंगा हो जाएगा. टोल प्लाजा के रेट्स 10 रुपये से लेकर 65 रुपये तक बढ़ जाएंगे.

बता दें, कल शुक्रवार से वाहनों के हिसाब से टोल रेट्स में इजाफा होगा. नेशनल हाईवे अथॉरटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने लाइट व्हीकल्स के लिए 10 रुपये की बढ़ोतरी की है तो कमर्शियल व्हीकल के लिए 65 रुपये तक का चार्ज बढ़ाया गया है.

बता दें कि NHAI की तरफ से हर साल टैक्स रिवाइज़ किया जाता है. इसी का नतीजा है कि 1 अप्रैल 2022 से आपको आने-जाने के लिए पहले से ज्यादा टोल टैक्स चुकाना होगा.

NHAI के प्रोजेक्ट डायरेक्टर ने ये कहा

NHAI के परियोजना निदेशक एनएन गिरी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है. दिल्ली को जोड़ने वाले हाईवे पर कारों और जीपों के टोल टैक्स में ₹10 की बढ़ोतरी की गई है. सबसे ज्यादा बढ़ोतरी बड़े वाहन के टोल में की गई है. इनमें से वन-वे टोल में ₹65 की बढ़ोतरी की गई है.

किस रूट पर कितना होगा टोल

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे (59.77 किलोमीटर) पर टोल शुल्क में भी कम से कम 10% की वृद्धि होगी. काशी टोल प्लाजा पर सराय काले खां से एक्सप्रेस-वे पर कारों और जीपों जैसे हल्के-मोटर वाहनों के लिए टोल टैक्स ₹140 के बजाय ₹155 होगा. सराय काले खां से रसूलपुर सिकरोड प्लाजा तक टोल टैक्स ₹100 होगा, जबकि भोजपुर के लिए ₹130 होगा.

इंदिरापुरम से, NHAI हल्के मोटर वाहनों के लिए काशी तक 105 रुपये, भोजपुर तक 80 रुपये और रसूलपुर सिकरोड तक 55 रुपये का टोल लेगा.

एनएचएआई को पिछले साल 25 दिसंबर से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर यात्रियों से टोल वसूलना शुरू करना था, लेकिन तब ऐसा हो नहीं पाया था.

खेड़की दौला पर 14% की बढ़ोतरी

इसके अलावा दिल्ली-जयपुर हाईवे पर स्थित खेड़की दौला टोल प्लाजा पर भी टोल टैक्स बढ़ेगा. इस टोल प्लाजा पर 14 फीसदी की बढ़ोतरी होगी. वहीं कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस-वे (KMP) पर टोल में 9 फीसदी या इससे ज्यादा की बढ़ोतरी होगी. खेरकी दौला टोल प्लाजा प्रबंधन के अनुसार, 1 अप्रैल से बड़े कमर्शियल व्हीकल्स (ट्रकों, बसों और इसी तरह के वाहनों) से पहले के ₹205 के बजाय अब ₹235 प्रति ट्रिप शुल्क लिया जाएगा.