उत्तर प्रदेश में बुधवार से 12 से 14 साल के बच्चों को कोरोना वायरस का टीका लगाने का अभियान शुरू हो गया है. इसका शुभारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित सिविल अस्पताल से किया. जानकारी के मुताबिक, 16 मार्च से लोकबंधु अस्पताल, केजीएमयू, बलरामपुर अस्पताल, पीजीआई और लोहिया संस्थान में भी बच्चों को कोरोना वैक्‍सीन लगाई जाएगी. लगभग 1 लाख 94 हज़ार 424 बच्चों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है. बता दें कि बच्चों को ‘कार्बीवैक्‍स वैक्सीन’ की 0.5 ML डोज़ दी जाएगी.

जानकारी के अनुसार, बच्‍चों को कुल 2 डोज़ दिए जाएंगे. पहले डोज़ के 4 हफ्ते बाद दूसरा डोज़ लगाया जाएगा. बुधवार से ही 60 साल से ऊपर के व्यक्तियों को भी प्रिकॉशन डोज़ दिया जाएगा. जिन व्यक्तियों को टीका लगाए हुए 9 महीने हो गए हैं, वे अपने नजदीकी अस्पताल में प्रिकॉशन डोज़ ले सकते हैं.

प्रयागराज में भी वैक्‍सीनेशन अभियान

प्रयागराज जिले में भी 12 से 14 वर्ष के बच्चों का कोविड वैक्सीनेशन आज से शुरू होगा. बच्चों को कार्बीवैक्स वैक्सीन लगाई जाएगी. मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज और तेज बहादुर सप्रू बेली अस्पताल मेंवैक्सीनेशन होगा. सुबह 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक वैक्सीन लगाई जाएगी. जिले में तीन लाख से ज्यादा बच्चों को वैक्सीन लगाई जाएगी. वैक्सीन की पहली डोज लगने के 28 दिन बाद दूसरी डोज लगाई जाएगी.

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने दी थी जानकारी

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा था कि 12 से 13 और 13 से 14 वर्ष की आयु के बच्चों का COVID टीकाकरण 16 मार्च से शुरू हो रहा है. साथ ही 60 साल से अधिक आयु वर्ग के सभी लोग अब एहतियाती खुराक प्राप्त कर सकेंगे. उन्‍होंने कहा था कि यदि बच्चे सुरक्षित हैं तो देश सुरक्षित है. समझा जाता है कि टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) ने 12-15 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों का टीकाकरण शुरू करने की सिफारिश की है. 12-14 वर्ष की आयु के बच्चों का टीकाकरण बुधवार से शुरू हो सकता है.