भारतीय शेयर बाजार ने सोमवार को सभी अनुमानों के विपरीत जोरदार गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत की. सेंसेक्‍स 1,000 अंकों से ज्‍यादा गिरकर फिर 55 हजार से नीचे पहुंच गया.

रूस-यूक्रेन के बीच युद्ध की वजह से सोमवार को निवेशकों का भरोसा फिर डगमगाया और उन्‍होंने बिकवाली शुरू कर दी. सेंसेक्‍स ने 530 अंकों की गिरावट के साथ 55,329 पर कारोबार की शुरुआत की, जबकि निफ्टी 177 अंकों के नुकसान के साथ 16,481 पर खुला.

10 मिनट के भीतर दोगुनी हो गई गिरावट

बाजार में ट्रेडिंग शुरू हुए अभी 10 मिनट भी नहीं बीते और बिकवाली बढ़ती चली गई. सुबह 9.31 बजे सेंसेक्‍स ओपनिंग सेशन से दोगुना गिरकर 1,018 अंकों के नुकसान के साथ 54,840 पर ट्रेडिंग करने लगा. इसी तरह, निफ्टी भी 290 अंकों की गिरावट के साथ 16,368 पर पहुंच गया.

निवेशक यहां नहीं लगा रहे दांव

BSE पर मेटल को छोड़कर अन्‍य सभी सेक्‍टर्स में गिरावट दिख रही है. ऑटो, बैंक, एफएमसीजी, आईटी, रियल्‍टी, फार्मा और पीएसयू बैंक के सेक्‍टर्स में 1 फीसदी से ज्‍यादा की गिरावट दिख रही थी. फ्यूचर समूह के स्‍टॉक्‍स में 6 से 15 फीसदी तक तेजी दिख रही है.

दूसरी ओर, बढ़त पर खुले एशियाई बाजार

एशियाई बाजारों के अधिकतर स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर सोमवार को ट्रेडिंग की शुरुआत बढ़त के साथ हुई है. सिंगापुर के एक्‍सचेंज पर 0.36 फीसदी और जापान के निक्‍केई पर 0.40 फीसदी की बढ़त दिख रही है. इसके अलावा ताइवान के बाजार 0.33 फीसदी और दक्षिण कोरिया के एक्‍सचेंज पर 0.40 फीसदी की बढ़त के साथ ट्रेडिंग हो रही है. एशियाई बाजारों का भारतीय निवेशकों को बड़ा असर दिखता है.