टाटा संस ने तुर्किश एयरलाइंस के पूर्व चेयरमैन इल्कर आयसी को एयर इंडिया का नया एमडी और सीईओ बनाया है. कंपनी के बोर्ड मीटिंग में यह फैसला किया गया. वह एक अप्रैल 2022 से अपनी जिम्मेदारी को संभालेंगे. बोर्ड की मीटिंग में टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन भी शामिल थे. बोर्ड ने उचित विचार-विमर्श के बाद उनके नाम को मंजूरी दी.

इल्कर आयसी की नियुक्ति के लिए अभी सभी रेगुलेटरी से मंजूरी लेना बाकी है. टाटा ग्रुप ने हाल ही में एयर इंडिया की 100 फीसदी हिस्सेदारी 18,300 करोड़ रुपये में खरीदी है. 27 जनवरी को यह डील पूरी हुई और उस दिन से टाटा संस इसका मालिक हो गया.

पॉलिटिकल साइंस के छात्र रहे हैं आयसी

51 वर्षीय आयसी तुर्की की बिल्केंट यूनिवर्सिटी के पॉलिटिकल साइंस और पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन डिपार्टमेंट के 1994 बैच के पूर्व छात्र हैं. 1995 में उन्होंने इंग्लैंड की लीड्स यूनिवर्सिटी में पॉलिटिकल साइंस पर एक रिसर्च प्रोजेक्ट किया था. 1997 में उन्होंने इस्तांबुल की मरमारा यूनिवर्सिटी से इंटरनेशनल रिलेशंस मास्टर प्रोग्राम पूरा किया.

बनाएंगे दुनिया की बेस्ट एयरलाइंस

द वॉल स्ट्रीट जर्नल के मुताबिक, आयसी टर्किश फुटबॉल फेडरेशन, टर्किश एयरलाइंस स्पोर्ट्स क्लब और टीएफएफ स्पोर्टिफ एनोनिम सिरकेटी के बोर्ड मेंबर हैं. वह कनाडाई तुर्की बिजनेस काउंसिल और यूएस-तुर्की बिजनेस काउंसिल के सदस्य भी हैं. आयसी ने कहा कि मैं लीडिंग आइकॉनिक एयरलाइंस को लीड करने और टाटा ग्रुप से जुड़ने के लिए काफी खुश हूं. हम एयर इंडिया की मजबूत विरासत का उपयोग करेंगे. दुनिया में इसे बेस्ट एयरलाइंस बनाने की कोशिश करेंगे.