दिल्ली में कोरोना मामले में गिरावट के बाद अब आम जनता को बंदिशों से राहत मिल सकती है. कोरोना हालात पर दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की अहम बैठक गुरुवार को होगी. इस बैठक में  वीकेंड कर्फ़्यू हटाने और बाज़ारों के ऑड-ईवन सिस्टम पर लागू करने को लेकर अहम फ़ैसला हो सकता है. सूत्रों के मुताबिक़, गुरुवार को होने वाली मीटिंग में दिल्ली में स्कूल खोलने का मुद्दा भी उठाया जाएगा और इस पर चर्चा होगी. दिल्ली सरकार चाहती है कि अब फ़ेस वाइज़ स्कूल खोले जाने चाहिए. अगर गवर्नर की मंज़ूरी मिली तो फ़रवरी के पहले हफ़्ते से स्कूल खोले जा सकते हैं. बाद में दूसरी कक्षाओं पर फ़ैसला होगा. वहीं, मीटिंग में शादीआयोजन में भी ढील देने पर चर्चा हो सकती है.

इससे पहले, बुधवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी स्कूलों को खोलने की बात कही थी. हालांकि, फैसला डीडीएमए की मीटिंग में होगा. मनीष सिसोदिया ने कहा था कि ऑनलाइन शिक्षा कभी भी ऑफलाइन शिक्षा की जगह नहीं ले सकती है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार ने स्कूलों को उस समय बंद कर दिया था जब यह बच्चों के लिए सुरक्षित नहीं था, लेकिन अब अत्यधिक सावधानी छात्रों को नुकसान पहुंचा रही है.

कितने मामले आए थे सामने

बुधवार को दिल्ली में 24 घंटे में 7498 नए मामले सामने आए थे. नए मामलों के सामने आने के बाद यहां संक्रमितों का कुल आकंड़ा बढ़कर 18,10,997 हो गया है. दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर 10.59 फीसदी है. मंगलवार को राजधानी में संक्रमण के 6028 नए मामले सामने आए थे. पिछले 24 घंटों में यहां 29 मरीजों की मौत भी इस जानलेवा वायरस की वजह से हुई, जिन्‍हें मिलाकर मृतकों का कुल आंकड़ा 25,710 हो गया है. इस दौरान 11,164 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्‍पतालों से छुट्टी भी दे दी गई और अब तक कुल 17,46,972 लोग कोरोना को मात देने में कामयाब रहे हैं.