प्रौद्योगिकी कंपनी गूगल, इसके सीईओ सुंदर पिचाई और कंपनी के पांच अन्य कर्मचारियों के खिलाफ अदालत के आदेश पर कथित कॉपी राइट उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है. मुंबई पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी. गूगल ने इस पर प्रतिक्रिया में कहा कि उसने कॉपी राइट के स्वामियों के लिए एक प्रणाली बनाई है जिसका इस्तेमाल वे यूट्यूब जैसे मंचों पर अपनी सामग्री की रक्षा के लिए कर सकते हैं.

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि मजिस्ट्रेट अदालत के आदेश पर मंगलवार शाम को उपनगरीय अंधेरी के एमआईडीसी पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है. फिल्म निर्देशक एवं निर्माता सुनील दर्शन ने कथित कॉपी राइट उल्लंघन का आरोप लगाते हुए अदालत से गूगल और इसके शीर्ष अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज करने का अनुरोध किया था, हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि कॉपी राइट उल्लंघन किस प्रकृति का है.

भारत में गूगल के प्रवक्ता ने कहा कि अनधिकृत अपलोड की सूचना को लेकर वह कॉपी राइट स्वामियों पर निर्भर करता है और उन्हें अधिकार प्रबंधन टूल की पेशकश करता है.

उन्होंने कहा कि कॉपी राइट उल्लंघन की सूचना मिलने पर वह सामग्री को तुरंत ही हटा देते हैं और एक से अधिक बार उल्लंघन करने वालों के अकाउंट बंद कर देते हैं.