राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना संक्रमण की दर पिछले दस दिनों में कम हुई है. ऐसे में दिल्ली में कोरोना को लेकर प्रतिबंधों को कम किया जा सकता है. इस बात के संकेत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिए हैं. उन्होंने मंगलवार को कहा कि दिल्ली में आज 10 फीसद कोरोना संक्रमण दर दर्ज होगी. 15 जनवरी को दिल्ली में अधिकतम 30 फीसद संक्रमण दर दर्ज हुई थी. पिछले 10 दिनों में संक्रमण दर 20 फीसद तक घट गई है. यह सब टीकाकरण की रफ्तार बढ़ाने की वजह से हुआ है.

दिल्ली के सीएम ने कहा कि पिछले सप्ताह मुझसे कुछ व्यापारी मिले और ऑड इवन, वीकेंड कर्फ़्यू हटाने की मांग की. उप राज्यपाल को प्रस्ताव भेजे हैं, लेकिन उन्होंने प्रस्ताव नहीं माने. उन्होंने कहा कि एलजी साहब बहुत अच्छे हैं उन्हें आपकी सेहत की चिंता है. हम और LG साहब मिलकर जल्द से जल्द पाबंदियां हटाएंगे.

उन्होंने कहा कि कोरोना बढ़ता है तो पाबंदियां लगानी पड़ती हैं. लोगों को तकलीफ़ होती है. भरोसा रखें कि जितनी जरूरत होती है, उतनी पाबंदियां लगाते हैं. जल्द ही हम प्रतिबंधों को हटाने और आपके जीवन को सामान्य स्थिति में लाने की कोशिश करेंगे. उस दिशा में सारी कोशिश होगी.

दिल्ली सरकार द्वारा आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में केजरीवाल

केजरीवाल ने कहा कि पिछले 2 साल से दुनिया कोरोना से जूझ रही है. पिछले 2 साल से कई गतिविधियां बंद पड़ी है. बहुत सारे लोगों की मौत हो गई. देश में तीसरी लहर चल रही है, लेकिन दिल्ली में यह पांचवीं लहर है और सबसे ज्यादा कोरोना की मार दिल्ली वालों ने ले ली है. क्योंकि कोरोनावायरस अपने देश का वायरस तो है नहीं, बाहर से आया हुआ है. बाहर से इंटरनेशनल फ्लाइट सबसे ज्यादा दिल्ली आती हैं तो जब भी कोई नया वेरिएंट आता है सबसे पहले दिल्ली में आता है और दिल्ली के लोगों ने इसकी सबसे ज्यादा मार झेली है.