दिल्ली में कोरोना महामारी को देखते हुए लगाया वीकेंड (सप्ताहांत) कर्फ्यू को समाप्त करने और दुकानें खुलने में ऑड-ईवन हटाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार सुबह उपराज्यपाल अनिल बैजल से अनुशंसा की थी.  इसके लिए उन्होंने उपराज्यपाल को पत्र भेजा था, जिसमें से उप राज्यपाल ने तीन में से एक प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है. उन्होंने दिल्ली में सभी निजी कार्यालयों के 50 प्रतिशत क्षमता से खुलने की अनुमति दे दी है.

उपराज्यपाल ने सभी निजी कार्यालयों को 50 प्रतिशत क्षमता से खोलने की मंजूरी दे दी है. लेकिन वीकेंड कर्फ्यू और मार्केट में दुकान खुलने की ऑड-ईवन व्यवस्था कोरोना की स्थिति में और सुधार होने तक जारी रहेगी.

महीने में सिर्फ 10 दिन खुल रहीं दुकानें

कहने को तो सिर्फ शनिवार व रविवार को ही दुकानों को बंद करने का निर्देश है, लेकिन ऑड-ईवन की वजह से सभी दुकानें नहीं खुल रही हैं. व्यापारियों का कहना है कि सप्ताह में दो-तीन दिन ही दुकानें खुल रही हैं. करोल बाग के व्यापारी गुरमीत अरोड़ा ने बताया कि व्यापार तो जीरो हो गया है. ऑड-ईवन की वजह से सप्ताह मे कोई दुकान दो दिन खुल रही है तो कोई तीन दिन. इस तरह से महीने में 10 दिन से ज्यादा कोई दुकान नहीं खुल पा रही है.

होलसेल व्यापार भी हो रहा प्रभावित

खुदरा व्यापार के साथ दिल्ली का होलसेल व्यापार भी प्रभावित हो रहा है. बाहरी राज्यों से आने वाले व्यापारियों की संख्या कम होने की वजह से थोक बाजार ठंडा पड़ गया है. करोल बाग मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष मुरली मनी व गांधी बाजार मार्केट एसोसिएशन के केके बल्ली का कहना है कि कोविड संक्रमण की वजह से अन्य राज्यों से आने वाले व्यापारियों की संख्या कम हो गई है. व्यापारी आते भी हैं तो ऑड-ईवन के अनुसार दुकान खुलने की वजह से किसी अन्य दुकान से खरीदारी कर लेते हैं. ऐसे में पुराने ग्राहक भी टूट रहे हैं.