प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को मणिपुर और त्रिपुरा के दौरे पर रहेंगे. इस दौरान पीएम मोदी मणिपुर में 13 परियोजनाओं का शुभारंभ करने के साथ 9 अन्य परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे.

मणिपुर के मुख्य सचिव राजेश कुमार ने बताया कि 4,800 करोड़ रुपये की कुल 22 परियोजनाओं का शुभारंभ होगा. कार्यक्रम में राज्यपाल ला गणेशन, मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह, केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री राजकुमार रंजन सिंह भी उपस्थित रहेंगे. पीएम के दौरे पर राज्य में सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं. हालांकि, राज्य के विद्रोही संगठन ने पीएम के दौरे का विरोध किया है,

पीएमओ ने बताया कि मणिपुर में वे 1850 करोड़ रुपये लागत वाले 13 प्रोजेक्ट का उद्घाटन करेंगे और 2950 करोड़ से शुरू होने वाले 9 प्रोजेक्ट की आधारशिला रखेंगे. त्रिपुरा में वे महाराजा बीर बिक्रम एयरपोर्ट की नई एकीकृत टर्मिनल इमारत का उद्घाटन करेंगे और दो महत्वपूर्ण विकास योजनाओं की शुरुआत करेंगे.

मणिपुर में प्रधानमंत्री जिन योजनाओं की आधारशिला रखेंगे, उनमें 1700 करोड़ लागत से पांच राष्ट्रीय राजमार्ग प्रोजेक्ट भी हैं. इनकी लंबाई 110 किलोमीटर से ज्यादा होगी। इससे इलाके में सड़क संपर्क बढ़ेगा. सिल्चर को इंफाल से सीधा जोड़ने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग-37 पर बराक नदी पर 75 करोड़ की लागत वाले स्टील ब्रिज का भी प्रधानमंत्री उद्घाटन करेंगे.

प्रधानमंत्री 2387 मोबाइल टावर जनता को समर्पित करेंगे और इंफाल में अत्याधुनिक कैंसर अस्पताल की आधारशिला रखेंगे. कोविड से जंग के लिए पीएम कियामगेई में डीआरडीओ के साथ मिलकर बनाए गए 37 करोड़ लागत वाले 200 बेड के अस्पताल का उद्घाटन करेंगे.

मणिपुर की समृद्ध संस्कृति से परिचित होगा हरियाणा

प्रधानमंत्री हरियाणा के गुरुग्राम में मणिपुर इंस्टीट्यूट ऑफ परफोर्मिंग आर्ट्स के निर्माण की आधारशिला भी रखेंगे. हरियाणा को मणिपुर की समृद्ध संस्कृति से परिचित कराने के लिए इस इंस्टीट्यूट की परिकल्पना वर्ष 1990 में की गई थी, लेकिन सालों तक इस दिशा में कोई काम नहीं हो सका. अब इसके निर्माण पर 240 करोड़ रुपये की लागत आएगी. इससे राज्य की संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा और सांस्कृतिक विरासत और मजबूत होगी.