दिल्‍ली में आज यानी शुक्रवार को भी शीतलहर का प्रकोप आज भी जारी है, जिसके 3 जनवरी तक जारी रहने का अनुमान है. मौसम विभाग  के अनुसार, दिल्ली में आज सफदरजंग और पालम में न्यूनतम तापमान 3.8 डिग्री सेल्सियस और 7.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. वहीं, गुरुवार को सफदरजंग वेधशाला में न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया थ. इससे पहले यानी बुधवार को न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी), मैदानी क्षेत्र में न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस रहने पर शीतलहर की घोषणा करता है. दिल्ली में इससे पहले 20 और 21 दिसंबर को शीत लहर का प्रकोप था, जब न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. यह इस मौसम का सबसे कम तापमान था. इसके बाद लगातार दो पश्चिमी विक्षोभों के प्रभाव और उत्तर पश्चिम हवाओं के धीमा पड़ने से धीरे-धीरे न्यूनतम तापमान बढ़कर 9.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था.

गुरुवार को ऐसा रहा था हाल

हालांकि मौसम विभाग ने आज (शुक्रवार) राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान जताया था. जबकि मौसम विभाग ने दिल्ली के आयानगर और नरेला के स्वचालित मौसम केन्द्रों में गुरुवार को न्यूनतम तापमान क्रमश: 3.8 डिग्री सेल्सियस और 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

दिल्‍ली में 3 जनवरी तक शीतलहर का अनुमान

दिल्‍ली में भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 3 जनवरी तक शीत लहर से भीषण शीतलहर की स्थिति रहने का अनुमान लगाया है. न्यूनतम तापमान के दो डिग्री सेल्सियस तक जाने या तापमान के सामान्य से 6.4 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किए जाने पर ‘भीषण’ शीत लहर की घोषणा की जाती है. मौसम विभाग ने सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण 4 जनवरी से न्यूनतम तापमान में वृद्धि का अनुमान जताया है, जिसके कारण 4 से 7 जनवरी के बीच जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भारी वर्षा और बर्फबारी हो सकती है. इसके साथ ही 5 से 7 जनवरी के बीच पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हल्की से मध्यम और कुछ जगह तेज बारिश होने का भी अनुमान है.