दिल्ली सरकार ने कोविड-19 की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए आज यानी सोमवार से नाइट कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है. अधिकारियों ने बताया कि अगर कोरोना संक्रमण दर लगातार दो दिन तक 0.55 प्रतिशत पर बनी रहती है, तो चार चरणों वाली ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (जीआरएपी) के तहत नाइट कर्फ्यू शुरू हो जाएगा, जो कि रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक प्रभावी रहेगा.

बता दें कि दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 290 नए मामले सामने आए, जो 10 जून के बाद से सबसे अधिक हैं. इसके अलावा एक रोगी की मौत हुई और संक्रमण दर बढ़कर 0.55 प्रतिशत हो गई. वहीं, जीआरएपी के तहत अगर लगातार दो दिन संक्रमण दर 0.5 प्रतिशत पर बनी रही तो ‘येलो’ अलर्ट लागू होगा, जिसके तहत कई प्रतिबंध लगाए जाते हैं. सूत्रों ने कहा कि रविवार को आमतौर पर कम संख्या में जांच होती है, जो संक्रमण दर को प्रभावित कर सकती हैं. फिर भी नाइट कर्फ्यू आज रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक चलेगा.

दिल्‍ली में कोरोना के एक्टिव केस 1000 के पार

दस जून को राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण के 305 और मौत के 44 मामले सामने आए थे. वहीं, दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या अब 14,43,352 है. जबकि मृतकों की तादाद 25,105 हो गई है. इस वक्‍त उपचाराधीन रोगियों की संख्या 1,103 है.

इन राज्‍या में जारी है नाइट कर्फ्यू

कोरोना और ओमिक्रॉन को देखते हुए उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा और कर्नाटक में भी दोबारा नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. वहीं, येलो अलर्ट के तहत नाइट कर्फ्यू, स्कूलों, कॉलेजों और गैरजरूरी सामान की दुकानों को बंद करना तथा मेट्रो ट्रेनों में आधी क्षमता के साथ बैठने की व्यवस्था एवं अन्य पाबंदियां लगाई जाएंगी.