दिल्‍ली में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के मामले रफ्तार पकड़ रहे हैं. इससे दिल्‍ली सरकार की टेंशन बढ़ गई है. वहीं,ओमिक्रॉन मामलों की संख्या में वृद्धि के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज यानी गुरुवार को तैयारियों और प्रबंधन का आकलन करने के लिए एक समीक्षा बैठक करेंगे.

बता दें कि देश में ओमिक्रॉन के सबसे अधिक 57 मामले दिल्ली में सामने आए हैं. इसके बाद महाराष्ट्र में 54, तेलंगाना में 24, कर्नाटक में 19, राजस्थान में 18, केरल में 15 और गुजरात में 14 मामले सामने आए हैं.

इन मुद्दों पर रहेगी चर्चा

कैबिनेट मंत्रियों और अधिकारियों के साथ होने वाली दिल्‍ली की सीएम केजरीवाल की इस बैठक में कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर और वायरस के ओमिक्रॉन स्वरूप के बारे में तैयारियों पर चर्चा होने की संभावना है. इसके अलावा बैठक में अस्पताल में बिस्तरों, दवाओं और होम क्‍वारंटाइन उपायों पर भी चर्चा हो सकती है.

दिल्‍ली में कोरोना का कहर बढ़ा

राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में गत 24 घंटे के दौरान 125 नए मामले सामने आए और संक्रमण दर 0.20 प्रतिशत रही. हालांकि इस अवधि में किसी मरीज की मौत दर्ज नहीं की गई है. दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि इसके साथ ही दिल्ली में अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 14,42,515 हो गई हैं जिनमें से करीब 14.16 लाख मरीज इस महामारी को मात दे चुके हैं. राष्ट्रीय राजधानी में महामारी से अबतक 25,102 मरीजों की जान गई है.

बता दें कि मंगलवार को दिल्ली में 0.20 प्रतिशत संक्रमण दर के साथ 102 नए मामले आए थे. जबकि सोमवार को संक्रमण की दर यही थी लेकिन 91 नए मामले आए थे. वहीं, गत रविवार को 0.17 प्रतिशत संक्रमण दर के साथ 107 और लोगों के महामारी की चपेट में आने की पुष्टि हुई थी. स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक, दिल्‍ली में इस समय 624 मरीज उपचाराधीन हैं.