आज़ादी के बाद से उत्तर प्रदेश के इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब शहर हो या गांव 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जाएगी. पिछले दिनों ही योगी सरकार ने अनुपूरक बजट में इस योजना को धरातल पर लाने के लिए 1000 करोड़ के बजट का प्रावधान किया है. प्रदेश सरकार की इस मंशा को पूरा करने के लिए ऊर्जा विभाग भी जुट गया है. ऊर्जा विभाग की तरफ इसके लिए एक विस्तृत कार्ययोजना मुख्यमंत्री को भेजी गई है. जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती 25 दिसंबर को इसकी शुरुआत कर सकते हैं.

गौरतलब है कि ऐसा पहली बार होगा जब पूरे प्रदेश में 24 घंटे बिजली की सप्लाई होगी. मौजूदा समय में ग्रामीण इलाकों में 18 घंटे, तहसील क्षेत्र में 22 घंटे और बुंदेलखंड में 20 घंटे की विद्युत् आपूर्ति की जा रही है. प्रदेश के जिला, मंडल, महानगर और औद्योगिक क्षेत्रों में पहले से ही 24 घंटे बिजली सप्लाई की व्यवस्था है. योगी सरकार के इस फैसले से सबसे ज्यादा फायदा ग्रामीण उपभोक्ताओं को होगा. साथ तहसील और बुंदेलखंड के लोगों को भी 24 घंटे बिजली मिल सकेगी.