अच्छे ग्लोबल मार्केट के बीच आज गुरुवार को बाजार की मजबूत शुरुआत हुई है. सेंसेक्स लगभग 400 अंकों की बढ़त के साथ 58,200 के पार ट्रेड कर रहा है. वहीं निफ्टी 100 अंकों से ज्यादा की तेजी के साथ 17,350 के आस-पास नजर आ रहा है. फेड के सख्त फैसलों के बावजूद कल अमेरिकी बाजारों में शानदार तेजी दिखी. करीब 400 अंक चढ़कर DOW बंद हुआ था .

इधर आज एशिया की मजबूत शुरुआत हुई है. SGX NIFTY में भी आधा परसेंट की तेजी देखने को मिल रही है. 15 दिसंबर को भारतीय बाजारों में विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 3,407.04 करोड़ रुपए की बिकवाली की. वहीं, इस दिन घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 1,553.01 करोड़ रुपए की खरीदारी की.

NSE पर F&O बैन में आने वाले शेयर

16 दिसंबर को NSE पर सिर्फ 3 स्टॉक F&O बैन में हैं. इसमें Escorts, Indiabulls Housing Finance और Vodafone Idea के नाम शामिल हैं. बताते चलें कि F&O सेगमेंट में शामिल स्टॉक्स को उस स्थिति में बैन कैटेगरी में डाल दिया जाता है, जिसमें सिक्योरिटीज की पोजीशन उनकी मार्केट वाइड पोजीशन लिमिट से ज्यादा हो जाती है.

US FED अगले साल 3 बार बढ़ाएगा ब्याज

US FED ने फिलहाल ब्याज दरों में बढ़ोतरी का एलान नहीं किया है. लेकिन अगले साल ब्याजा दरों में 3 बार बढ़ोत्तरी की जाएगी. साथ ही मार्च तक बॉन्ड खरीदारी बंद की जाएगी. यूएस फेड ने ब्याज दरें 0.00-0.25 फीसदी पर कायम रखते हुए. बॉन्ड खरीदारी को तेजी से घटाने का फैसला लिया है.

हर महीने 30 अरब डॉलर की बॉन्ड टेपरिंग करने का फैसला लिया गया है. मार्च 2022 तक बॉन्ड खरीदारी बंद की जाएगी. इसके साथ ही US FED ने कहा है कि 2022 में 3 बार रेट बढ़ाने की संभावना है. 2023 में 2 बार रेट बढ़ाने की संभावना है वहीं, 2024 में 2 बार रेट बढ़ाने की संभावना है.

US FED ने ये भी कहा है कि इकोनॉमिक ग्रोथ के लिए पॉलिसी समीक्षा जारी है. FED ने 2021 का महंगाई आउटलुक 4.2 फीसदी से बढ़ाकर 5.3 फीसदी कर दिया है. जबकि 2022 के लिए महंगाई अनुमान 2.6 फीसदी किया है. वहीं, 2021 का बेरोजगारी दर अनुमान 4.8 फीसदी से घटकर 4.3 फीसदी किया गया है. वहीं, 2021 का GDP अनुमान 5.9 फीसदी से घटाकर 5.5 फीसदी कर दिया गया है. जबकि 2022 का GDP अनुमान 3.8 फीसदी से बढ़ाकर 4 फीसदी कर दिया गया है.