पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी की वजह से उत्तर भारत के मौसम ने भी करवट बदल ली है. उत्तर प्रदेश, दिल्ली, बिहार, हरियाणा समेत देश के कई राज्यों में ठंड बढ़ने लगी है. कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश में बढ़ती ठंड का अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि वहां न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया गया है. आज मौसम विभाग की मानें तो पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-कश्मीर और आसपास के इलाकों में बना हुआ है. वहीं, अगले 5 दिनों के दौरान देश के अधिकांश हिस्सों में ड्राई मौसम की संभावना है. दिल्ली में आने वाले दिनों में भंयकर कोहरा देखने को मिल सकता है.

मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 घंटों के दौरान तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तट, केरल, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश की संभावना है. पश्चिमी हिमालय के ऊपरी इलाकों में हल्की बारिश और हिमपात संभव है. साथ ही ठंड की बात करें तो पूर्वी भारत का न्यूनतम तापमान 1 से 2 डिग्री तक गिर सकता है.

मौमस विभाग के मुताबिक, कश्मीर, लद्दाख, गिलगिट बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में अगले पांच दिनों के दौरान हल्की बारिश और बर्फबारी हो सकती है. वहीं, हिमाचल प्रदेश में 16 और 17 दिसंबर को बर्फबारी और बारिश होगी. अगले तीन दिनों के दौरान पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, नॉर्थ राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों और मध्य प्रदेश में न्यूनतम तापमान 6 से 10 डिग्री के बीच बना रहेगा. उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में हवा चलने की वजह से ठंड अचनाक बढ़ गई है.

कश्मीर में शीत लहर का कहर

कश्मीर में शीत लहर का प्रकोप बढ़ने से तापमान जमाव बिंदु के कई डिग्री नीचे दर्ज किया गया. मौसम विभाग के मुताबिक, श्रीनगर में रविवार रात तापमान शून्य से 3.5 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा. यह घाटी का दूसरे सबसे ठंडा क्षेत्र था. वहीं, उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के गुलमर्ग रिजॉर्ट में न्यूनतम तापमान शून्य से पांच डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. मौसम वैज्ञानिकों ने जम्मू-कश्मीर के कुछ इलाकों में मंगलवार को हल्की बारिश या बर्फबारी का पूर्वानुमान लगाया है.

दिल्ली में भी बढ़ी ठंड

दिल्ली में कोहरा छाए रहने की संभावना है. आज यानी मंगलवार को सुबह के समय पारा 7.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि शहर में अधिकतम तापमान 22.4 डिग्री सेल्सियस है. कल से दिल्ली में कोहरा छाया रहेगा वहीं, प्रदूषण की बात करें तो दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स अब भी 328 अंकों के साथ ‘बहुत खराब’ की श्रेणी में है.