भारत के प्रतिष्ठित तकनीकी शिक्षण संस्थानों इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने प्लेसमेंट ड्राइव के महज 6 दिनों में ही छात्रों पर करोड़ों रुपये के जॉब ऑफर्स की बारिश कर दी है. संस्थानों के अधिकारियों की मानें, तो छात्रों को नौकरी मिलने के लिहाज से यह साल काफी खास रहा है. नौकरियों के कुल ऑफर्स से लेकर करोड़ों के पैकेज तक देश के IITs ने रिकॉर्ड आंकड़े पेश किए हैं. इसके अलावा बीते साल कोविड-19 की मार झेलने के बाद छात्रों को अंतरराष्ट्रीय ऑफर्स की संख्या में भी काफी इजाफा दर्ज किया गया.

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, IIT BHU में सोमवार की दोपहर तक 307 कंपनियों ने 1142 ऑफर्स दिए. जबकि, IIT कानपुर में शनिवार तक यह आंकड़ा 940 पर था. इनमें 47 अंतरराष्ट्रीय ऑफर्स भी शामिल हैं. IIT रुड़की में 32 अंतरराष्ट्रीय समेत 1000 से ज्यादा ऑफर्स आए. IIT खड़गपुर में ऑफर्स की संख्या 1300 और IIT गुवाहटी में 625 को पार कर गई. IIT मद्रास में 231 प्री-प्लेसमेंट ऑफर्स समेत छात्रों को 1208 मौके मिले.

कानपुर, रुड़की, खड़गपुर और वाराणसी IIT में एक करोड़ से ज्यादा पैकेज की संख्या 80 को पार कर गई. वहीं, बीते साल के मुकाबले छात्रों को इस बार काफी ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मौके मिले. इस साल कानपुर, मद्रास, रुड़की, गुवाहाटी और बीएचयू IIT में 220 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय ऑफर्स आए. IIT मद्रास में अंतरराष्ट्रीय ऑफर्स की संख्या 181 फीसदी के उछाल के साथ 45 हो गई. बीते साल यह आंकड़ा 16 था. IIT गुवाहाटी में 366 फीसदी की बढ़त के साथ अंतरराष्ट्रीय ऑफर्स 6 से बढ़कर 28 हो गए. वहीं, IIT कानपुर में यह संख्या बीते साल 19 से बढ़कर 47 हो गई. खास बात है कि IIT बीएचयू में बीते साल शून्य की तुलना में इस साल 35 अंतरराष्ट्रीय ऑफर्स आए.

IIT बीएचयू में कैंपस प्लेसमेंट के लिए रजिस्टर कराने वाले 75 फीसदी से ज्यादा छात्रों को पहले ही नौकरी मिल गई है. IIT कानपुर के निदेशक अभय करंदिकर ने बताया, ‘प्लेसमेंट के लिहाज से यह अब तक के सबसे शानदार सालों में से एक है.’ ईटी से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘बीते कुछ सालों में संस्थान में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों मामलों में सबसे ज्यादा ऑफर्स में से एक दिए गए. सेक्टर्स में टेक टैलेंट की काफी मांग है. चाहे कृषि हो, रिटेल हो, इंफ्रास्ट्रक्चर हो… हर सेक्टर किसी प्रक्रिया में आधुनिक दौर की तकनीक का इस्तेमाल कर रहा है. यह मांग महामारी के कारण बढ़ गई है.’

IIT गुवाहाटी में सेंटर फॉर करियर डेवलपमेंट के प्रमुख अभिषेक कुमार ने बताया, ‘बीते तीन सालों की तुलना में, हमें इस साल सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय और घरेलू ऑफर्स मिले हैं.’ उन्होंने कहा, ‘स्टार्टअप्स में हो रही नियुक्ति के साथ सॉफ्टवेयर कंपनियों में बीते सालों से बढ़त देखी गई है.’

ईटी के अनुसार, करीब 6 सालों के बाद इस बार कैंपस प्लेसमेंट में 2 करोड़ रुपये से ज्यादा के पैकेज ने वापसी की है. सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय ऑफर ने 2 करोड़ के पैकेज का आंकड़ा पार किया है. वहीं, घरेलू पैकेज में पैकेज 1.8 करोड़ रुपये तक गया.