देश में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 21 हो गई है. रविवार को ओमिक्रॉन वेरिएंट के 17 और नए केस मिले हैं. इनमें सबसे ज्यादा जयपुर में 9 मामले सामने आए और दिल्ली में इस वेरिएंट का पहला केस दर्ज हुआ है. वहीं महाराष्ट्र में 7 और नए केस देखने को मिले हैं. इस बीच ओमिक्रॉन वेरिएंट की बढ़ती दहशत के बीच अमेरिका और ब्रिटेन ने विदेशों से आने वाले यात्रियों के लिए कोविड-19 टेस्टिंग नियम सख्त करते हुए इस सूची में भारत को भी डाल दिया है.

जयपुर में ओमिक्रॉन के 9 मामले

राजस्थान की राजधानी जयपुर में रविवार को एक ही परिवार में ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित 9 लोग मिले हैं. इस फैमिली की ट्रैवल हिस्ट्री साउथ अफ्रीका से संबंधित है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने इसकी पुष्टि की है. संक्रमित पाए गए लोगों में से 4 लोग दक्षिण अफ्रीका से लौटे थे. अन्य 5 इनके संपर्क में थे. सभी का इलाज जारी है. सभी की हालत सामान्य बताई जा रही है.

महाराष्ट्र में 7 और नए मामले

महाराष्ट्र के पुणे जिले में कोविड-19 के ओमिक्रॉन वेरिएंट के 7 नए मामलों की पहचान हुई है. इससे पहले कल्याण-डोंबिवली का एक शख्स जो साउथ अफ्रीका से लौटा था वह ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित पाया गया था. इसके साथ ही राज्य में इस वेरिएंट से संक्रमित कुल लोगों की संख्या 8 हो गई है.

दिल्ली में ओमिक्रॉन का पहला केस

देश की राजधानी दिल्ली में ओमिक्रॉन वेरिएंट का पहला केस दर्ज हुआ. तंजानिया से लौटा 37 वर्षीय वैक्सीन के दोनों डोज ले चुका व्यक्ति ओमिक्रॉन से संक्रमित पाया गया. यह मरीज रांची का रहने वाला था जो तंजानिया से दोहा और फिर वहां से कतर एयरवेज की फ्लाइट्स से दिल्ली लौटा. अधिकारियों ने बताया कि वह साउथ अफ्रीका के जोहन्सबर्ग में एक सप्ताह तक ठहरा था. इस व्यक्ति का पूर्ण टीकाकरण हो चुका था. फिलहाल उसे दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में हल्के लक्षण होने पर भर्ती कराया गया है.

अमेरिका और ब्रिटेन में विदेशी यात्रियों के लिए नियम सख्त

अमेरिका और ब्रिटेन में भारत समेत अन्य देशों से आने वाले सभी यात्रियों के लिए कोविड-19 नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया गया है. ओमिक्रॉन के बढ़ते संक्रमण और खतरे के बीच यह कदम उठाए जा रहे हैं. अमेरिका में न्यू प्रोटोकॉल 6 दिसंबर से लागू होगा जबकि ब्रिटेन में नया नियम 7 दिसंबर से प्रभावी होगा.