भारत में ट्विटर पर लोगों के फॉलोअर्स घट रहे हैं. इनमें आम यूजर्स के साथ ही कई बड़े सेलेब्रिटी और नेता भी शामिल हैं. कंपनी की तरफ से इसे लेकर ना तो कोई नई पॉलिसी घोषित की गई और ना ही यूजर्स (Twitter Users)  की तरफ से ट्वीट्स के जरिए शिकायत करने के बावजूद फॉलोअर्स घटने का कारण ही बताया गया. लोग अपने फॉलोअर्स घटने के लगातार ट्वीट कर रहे हैं.

कुछ यूजर्स ने तो कुछ ही मिनटों में 100 से ज्यादा फॉलोअर्स खो दिए हैं. कुछ का कहना है कि अचानक ही उनके हजारों फॉलोअर्स घट गए हैं. हालांकि अभी तक ट्विटर की तरफ से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. लेकिन यह प्लेटफॉर्म को क्लीनअप किया जा रहा है. इसमें बॉट और इनेक्टिव अकाउंट्स को सस्पेंड किया जा रहा है.

इंटरनेट मीडिया पर चल रहा कैंपेन

ट्विटर यूजर लगातार इसको लेकर कैंपन चला रहे हैं. इसके लिए #ParagStopThis और #फॉलोअर्सपरहमला अभियान चलाया जा रहा है. यूजर ट्विटर से पूछ रहे हैं कि आखिरकार फॉलोअर्स पर हमला क्‍यों हो रहा है. हालांकि, अब जानकारी मिल रही है कि धीरे-धीरे Followers की संख्‍या बढ़ने लगी है. घटने और बढ़ने का सिलसिला जारी है. कई यूजर्स ने फालोअर्स घटने के लिए ट्विटर के नए सीईओ पराग अग्रवाल  को जिम्‍मेदार ठहराते हुए उन्‍हें खरी-खोटी भी सुनाई है.

ट्विटर ने किए ये बदलाव

बता दें कि ट्विटर ने 1 दिसंबर से ही अपनी पर्सनल इंफार्मेशन सिक्योरिटी पॉलिसी में बदलाव किए हैं. ट्विटर ने यूजर्स को प्राइवेट में मीडिया फाइल जैसे फोटो और वीडियो शेयर करने पर रोक लगा दी थी. अब कोई यूजर की बिना परमिशन के उसे मीडिया फाइल नहीं भेज सकता है. इसके अलावा ट्विटर ने सेंसिटिव इंफॉर्मेशन जैसे घर का पता, पहचान बताने वाले डॉक्यूमेंट्स और कॉन्टेक्ट इंफार्मेशन रखने वाली मीडिया फाइल्स को बैन कर दिया है.