देश में कोरोना संक्रमण के मामलों उतार चढ़ाव का क्रम जारी है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बताया कि बीते 24 घंटे में एक्टिव मामलों में 440 मामलों की वृद्धि हुई है वहीं 477 लोगों की मौत हो गई है. मंत्रालय के अनुसार बीते एक दिन में जहां 8 हजार 548 लोग ठीक होकर घरों को लौटे तो वहीं  9 हजार 765 नए मामले पाए गए हैं. मंत्रालय के अनुसार देश में फिलहाल 99 हजार 763 मामले एक्टिव हैं तो वहीं 3 करोड़ 40 लाख 37 हजार 54 लोग ठीक हो चुके हैं तो वहीं 4 लाख 69 हजार 724 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं टीकाकरण की बात करें तो देश में अब तक 1 अरब 24 करोड़ 96 लाख 19 हजार 515 खुराक दी जा चुकी है. इसमें से 80 लाख 35 हजार 261 खुराक बुधवार को दी गई.

देशव्यापी टीकाकरण का आगाज़ 16 जनवरी को हुआ था और सबसे पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड रोधी टीके लगाए गए थे. इसके बाद दो फरवरी से अग्रिम पंक्ति के कर्मियों का टीकाकरण शुरू हुआ था. इसके अगले चरण की शुरुआत एक मार्च से हुई थी और 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के और 45-59 साल के बीच के उन लोगों को टीके लगवाने की अनुमति दी गई थी जो पहले से किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं.

देश में एक अप्रैल से 45 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों के लिए टीकाकरण शुरू कर दिया गया था और इसके बाद एक मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को टीका लगवाने की इजाजत दे दी गई थी.

70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां

देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी. वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे. देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक जिन लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं. मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है.