साउथ अफ्रीका में पाए गए कोरोना के नए वैरिएंट ने दुनिया के होश उड़ा दिए हैं. कोरोना के इस नए वैरिएंट को वैरिएंट ऑफ कंसर्न (VoC) की कैटेगरी में रखते हुए WHO ने इसे ओमिक्रॉन नाम दिया है. यह कोरोना का अब तक का सबसे अधिक म्यूटेशन करने वाला वैरिएंट माना जा रहा है. यही वजह है कि वैज्ञानिक इसे ‘डरावना’ बता रहे हैं. इस वैरिएंट को भारत में दूसरी लहर और दुनिया के कई देशों में तीसरी लहर की वजह बने डेल्टा वैरिएंट से कहीं ज्यादा म्यूटेशन और तेजी से फैलने वाला करार दिया गया है. ओमिक्रोन से जुड़ी हर खबर जानने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे…

भारत में ओमिक्रोन वैरिएंट की आशंका

कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर उभर रही चिंताओं के बीच कर्नाटक के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री के. सुधाकर ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका से हाल ही में बेंगलुरु आए दो लोगों में से एक का नमूना ‘डेल्टा वैरिएंट’ से अलग है। इस व्‍यक्ति में पाया गया वायरस डेल्टा वैरिएंट से अलग दिखता है। वहीं महाराष्‍ट्र के ठाणे में दक्षिण अफ्रीका से लौटे एक शख्स को कोरोना से संक्रमित पाया गया है।

अफ्रीकी देशों से 1000 यात्री आए मुंबई, खतरा ज्यादा

बृहन्मुंबई नगर निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले 15 दिनों में 1000 यात्री मुंबई में आए हैं। ये सभी लोग अफ्रीकी देशों से आ रहे थे जहां पर ओमिक्रोन का खतरा सबसे ज्यादा बना हुआ है।  इन 1000 यात्रियों में से बीएमसी के पास सिर्फ 466 लोगों का डेटा मौजूद है। इसमें भी 100 लोगों का कोविड टेस्ट करवाया गया है। अब इन लोगों में से जो भी कोविड पॉजिटिव पाया जाएगा, उनकी रिपोर्ट जीनोम सीक्वेंस के लिए भेजी जाएगी। बताया जा रहा है कि इन देशों से आए संक्रमित लोगों को सेवन हिल्स अस्पताल में क्वारंनटीन में रखा जाएगा।