राजधानी दिल्‍ली के आर के पुरम के एकता विहार में बीती रात उस समय दहशत फैल गयी जब किसी ने ये अफवाह फैला दी कि बगल के सीआरपीएफ (CRPF) या एनएसजी (NSG) कैम्प से जहरीली गैस छोड़ी गयी है. इसके बाद इलाके में अफरा-तफरी मच गयी और लोगों की आंखों में जलन होने लगी थी. यही नहीं, लोग अपने-अपने घरों से बदहवास होकर बाहर सड़कों पर आकर खड़े हो गए. किसी को कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि क्या हो रहा है. जबकि स्‍थानीय लोगों ने बताया कि गैस से कई लोग बेहोश हो गए, जिन्हें अस्पताल मे भर्ती कराया गया. हालांकि डीसीपी गौरव शर्मा ने 7 लोगों को सफदरजंग हॉस्पिटल में कैट्स एम्बुलेंस और पीसीआर द्वारा ले जाने की पुष्टि की है.

वहीं, सूचना मिलने पर कई समाजसेवी घटना स्‍थल पर पहुंचे और लोगों को मास्क दिए, ताकि जहरीली गैस से लोगों को सांस लेने मे दिक्कत ना हो. इसके बाद दिल्‍ली पुलिस को सूचित किया गया. सूचना मिलते ही तुरंत स्थानीय थाने के एसएचओ अपने दल बल के साथ पहुंच गए. कोई हादसा ना हो इसके लिए दो फायर की गाड़ियां और लगभग 6 एम्बुलेंस भी पहुंच गयी. वहीं, डीडीएमए की टीम भी घटना स्‍थल पर पहुंची थी.

दिल्‍ली पुलिस ने कही ये बात

दिल्‍ली पुलिस मौके पर पहुंचकर सीआरपीएफ और एनएसजी कैम्प में जाकर जांच की, लेकिन वहां से कोई गैस लीक होने की बात से इनकार किया गया है. यह मामला बीती रात तब सामने आया जब लोग खाना खाकर सोने की तैयारी में थे, लेकिन इसके बाद लोग दहशत में रहे और बाहर सड़कों पर ही जमे रहे. इसके अलावा दिल्ली पुलिस ने कहा कि एकता विहार क्षेत्र में न किसी गैस सिलेंडर में आग लगी और न ही कहीं से धुंआ निकला है. पुलिस अभी भी जांच में जुटी हुई है कि आखिर ये गैस लीक कहां से हुई है.