पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव हैं. इससे पहले ही बीजेपी, कांग्रेस समेत सभी दल तैयारियों में जुटे हैं. इस बीच मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने पद संभालने के बाद पहली बार सोमवार को लुधियाना का दौरा किया. इस दौरान उन्‍होंने पंजाब कांग्रेस के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं संग बैठक की. बैठक के दौरान उन्‍होंने राज्‍य में केबल टीवी सेवा की नई दर 100 रुपये मासिक तय किए जाने की घोषणा की है.

पंजाब के अटम नगर में पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने कहा कि केबल माफिया ने राज्‍य में केबल टीवी का रेट अधिक बढ़ाकर लोगों का शोषण किया है. इसके साथ ही उन्‍होंने बादल परिवार पर भी निशान साधा. उन्‍होंने कहा कि पंजाब में ट्रांसपोर्ट और केबल टीवी बिजनेस पर बादल परिवार का अधिपत्‍य है. अब लोगों को केबल टीवी के लिए 100 रुपये महीने से अधिक देने की जरूरत नहीं है. उन्‍होंने यह भी चेतावनी दी है कि जो लोग इन नए रेट के अनुसार सेवा उपलब्‍ध नहीं कराएंगे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने इस दौरान यह भी कहा कि सभी गैर कानूनी बस परमिट भी वापस ले लिए जाएंगे और उन्‍हें बेरोजगार युवाओं को दे दिया जाएगा. सीएम चन्नी ने आगे कहा कि अगले 10 दिनों में नगर परिषदों और निगमों में काम कर रहे सभी सफाई सेवकों की सेवाओं को नियमित कर दिया जाएगा और भर्ती के लिए कॉन्‍ट्रैक्‍ट प्रणाली को खत्म करने के अलावा 10 साल के सेवा नियम की कोई शर्त नहीं होगी. इससे पहले सिद्धू और चन्‍नी ने ऑटोरिक्शा चालकों से मुलाकात की, जहां सीएम ने कहा कि सभी लंबित चालान माफ कर दिए जाएंगे.

मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी ने किसान आंदोलन के दौरान मारे गए पांच किसानों के परिजनों को सरकारी नौकरी के नियुक्ति पत्र भी सौंपे. वहीं सिद्धू ने थोड़े समय के भीतर ही ऐतिहासिक फैसलों के लिए सीएम चन्‍नी की सराहना की.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार जल्द ही प्रभावी नीतियों को शुरू करके पंजाब को कर्ज मुक्त बनाने के लिए एक तंत्र विकसित करेगी, कर्ज मुक्त पंजाब को जोड़ने से आने वाली पीढ़ियों के लिए एक बेहतर जगह होगी. उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं को उनकी कड़ी मेहनत और प्रतिबद्धता के लिए सभी बोर्डों, निगमों और अन्य निकायों में बेहतर प्रतिनिधित्व दिया जाएगा.