प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे की शुरुआत करेंगे. सरकारी सूत्रों ने बताया कि पीएम शुक्रवार को जनसभाओं के लिए झांसी और महोबा में होंगे. वे बुंदेलखंड को बड़ी सौगातें देंगे. कई योजनाओं और परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे. इसके बाद वे लखनऊ जाएंगे और दिल्ली लौटने से पहले शनिवार और रविवार को डीजीपी के सम्मेलन में शामिल होंगे.

पीएम द्वारा दो जनसभाओं से बुंदेलखंड के लिए एक मजबूत राजनीतिक संदेश मिलने की उम्मीद की जा रही है. प्रधानमंत्री, रानी लक्ष्मी बाई की जयंती के अवसर पर ‘झांसी जलसा महोत्सव’ के समापन के लिए झांसी में होंगे. पीएम नरेंद्र मोदी, यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के झांसी नोड में भारत डायनेमिक्स की पहली परियोजना का भी उद्घाटन करेंगे और एक मेगा सौर ऊर्जा संयंत्र की आधारशिला रखेंगे.

प्रधानमंत्री आत्‍मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने के लिए स्वदेश में विकसित लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर, ड्रोन / यूएवी और नौसेना के जहाजों के लिए उन्नत ईडब्ल्यू सूट भी सशस्त्र बलों को सौंपेंगे. वे शहीद नायकों को श्रद्धांजलि देने के लिए राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर डिजिटल कियोस्क को लॉन्च करेंगे. गौरतलब है कि 19 नवंबर को झांसी के ऐतिहासिक किले के प्रांगण में भव्य समारोह का आयोजन किया जा रहा है. इसी दिन रानी लक्ष्मी बाई का जन्मदिन भी है. सूत्रों ने बताया कि पीएम खुद को एसोसिएशन के पहले सदस्य के रूप में नामांकित करके एनसीसी एलुमनी एसोसिएशन का भी शुभारंभ करेंगे. वे महोबा में अन्य योजनाओं के साथ अर्जुन बांध परियोजना का उद्घाटन करेंगे. वहां से पीएम 20 और 21 नवंबर को डीजीपी के सम्मेलन के लिए लखनऊ जाएंगे.