डिजिटल मंच ‘लोकल सर्किल्स’ पर किए गए सर्वेक्षण में हिस्सा लेने वाले दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के 43 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उनके परिवार में या उनके किसी करीबी को इस साल डेंगू  हुआ है. अगस्त के मध्य से, दिल्ली-एनसीआर के कई निवासियों ने ‘लोकल सर्किल्स’ पर उनके परिवार में किसी न किसी को तेज बुखार, थकान और जोड़ों में दर्द जैसे डेंगू के लक्षण होने की जानकारी दी.

सर्वेक्षण में 15000 प्रतिक्रियाएं मिलीं, जिनमें से गाजियाबाद के 57 प्रतिशत, दिल्ली में 45 प्रतिशत, नोएडा के 44 प्रतिशत, फरीदाबाद के 40 प्रतिशत और गुड़गांव के 29 प्रतिशत लोग थे. सर्वेक्षण में कहा गया कि दिल्ली-एनसीआर के 10 प्रतिशत लोगों के परिवार या उनके करीबियों में से ‘ चार या उससे अधिक लोगों’ को डेंगू था.

सर्वेक्षण में शामिल दिल्ली-एनसीआर के 53 प्रतिशत निवासियों में से ज्यादातर ने कहा कि उनके आसपास कोई भी संक्रमित नहीं हुआ है और तीन प्रतिशत ने कहा कि वे इसके बारे में कुछ कह नहीं सकते. लगभग 43 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उनके परिवार में या उनका कोई करीबी इस साल डेंगू की चपेट में आया है.

लोकल सर्किल्स’ के संस्थापक सचिन तपारिया ने कहा, ‘लोकल सर्किल्स ने पिछले छह सप्ताह से सप्ताह-दर-सप्ताह रक्त प्लेटलेट के अनुरोधों में 100 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि देखी. सर्वेक्षण में पाया गया कि डेंगू से केवल दिल्ली ही नहीं बल्कि एनसीआर भी बुरी तरह प्रभावित है. यह प्रसार को नियंत्रित करने और कम करने के साथ-साथ अतिरिक्त स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं के लिए अधिकारियों के तत्काल हस्तक्षेप का भी सुझाव देता है.’