उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. इसमें योगी सरकार ने वर्ष 1970 में पूर्वी पाकिस्तान से हिन्दू बंगाली परिवारों के पुनर्वासन योजना स्वीकृत करने का बड़ा फैसला लिया है. मंत्रिपरिषद ने वर्ष 1970 में पूर्वी पाकिस्तान से विस्थापित 63 हिन्दू बंगाली परिवारों के लिए ग्राम भैंसाया, तहसील रसूलाबाद, जनपद कानपुर देहात में पुनर्वास विभाग के नाम उपलब्ध 121.41 हेक्टेयर भूमि पर प्रस्तावित पुनर्वासन योजना को स्वीकृति प्रदान कर दी.

पाकिस्तान से आए हिंदू परिवारों के पुनर्वास के लिए मंत्रिपरिषद ने जो अनुमोदन किए उसके अनुसार कृषि कार्य हेतु प्रति परिवार दो एकड़ भूमि का आवंटन किया जाएगा ताकि पुनर्वासित परिवार यहां खेती उपज से अपनी पारिवारिक आय का जरिया बना सके. इसके साथ ही परिवार को आवास के लिए 200 वर्गमीटर भूमि प्रति परिवार देने का फैसला लिया गया है. इन परिवारों को आवास निर्माण के लिए प्रति परिवार 1.20 लाख रुपये दिए जाएंगे जो मुख्यमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत होंगे. इसके साथ ही भूमि सुधार और सिंचाई सुविधा आवश्यतानुसार मनरेगा योजना के अन्तर्गत क्रियान्वित किया जाएगा.