यूपी के गोरखपुर में कथित पाकिस्तान का झंडा लगाने को लेकर माहौल तनावपूर्ण हो गया. दरअसल जिले के चौरीचौरा थाना क्षेत्र के मुंडेरा बाजार के वार्ड नंबर 10 में एक मुस्लिम समुदाय के घर पर पाकिस्तान का झंडा लगे होने की बात को लेकर हिंदूवादी संगठनों ने जमकर प्रदर्शन किया. पाकिस्तान का झंडा लगा होने की सूचना पर हिन्दू संग़ठन की आक्रोशित भीड़ अल्पसंख्यक समुदाय के घर पहुंच गई. इस दौरान आक्रोशित हिंदू समर्थकों ने मौके पर पत्थरबाजी करके एक वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया. जिसके बाद अनहोनी की आशंका को देखते हुए आरोपियों ने घर का दरवाजा अंदर से बंद कर लिया. इस बीच हंगामे की सूचना पर मौके पर चौरीचौरा और झगहां थाने की पुलिस फोर्स पहुंच गयी.

मौके पर एसपी नॉर्थ मनोज कुमार अवस्थी ने हंगामा करे रहे हिंदू संगठन के लोगों को कार्रवाई का भरोसा दिलाकर माहौल शांत कराया. वहीं हिंदू संगठन ब्राह्मण जन कल्याण समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष कल्याण पाण्डेय की तहरीर पर पुलिस ने चार नामजद आरोपियों जिनमें तालीम, पप्पू, आशिक और आरिफ पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया है. एसपी नॉर्थ ने बताया कि दरअसल हंगामे की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शांति व्यवस्था बनाने के साथ ही विवाद की जड़ तथाकथित झंडे को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया. एसपी नॉर्थ मनोज अवस्थी ने कहा कि झंडा इस्लामिक है अथवा पाकिस्तान का इसकी जांच करायी जायेगी. साथ ही आरोपियों के भी रिकार्ड खंगाले जायेंगे. जिले में माहौल खराब करने को लेकर जो भी आरोपी होंगे उन पर सख्त कार्रवाई की जायेगी.

गौरतलब है कि चौरीचौरा थाना के मुंडेरा बाजार कस्बे के वार्ड नंबर 10 में तालीम नाम के व्यक्ति के मकान पर पर पाकिस्तानी झंडा लगे होने की फोटो तेजी से वायरल हो रही थी. वायरल फोटो को संज्ञान में लेकर जब मौके पर चौरीचौरा पुलिस पहुंची तो जिस मकान पर झंडा होने की बात कही जा रही थी, वहां कोई झंडा नहीं मिला. हालांकि मकान अंदर से बंद था, जबकि इस बीच मौके पर मौजूद भीड़ ने पप्पू कुरैशी के दरवाजे पर खड़ी गाड़ी में तोड़फोड़ कर दी. फिलहाल पुलिस पूरे प्रकरण की गहराई से जांच कराने के साथ ही माहौल खराब करने वालों के साथ सख्ती से निपटने के मूड में नजर आ रही है.