केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों को दीवाली 2021 का तोहफा दे दिया है. दरअसल, वित्त मंत्रालय ने कहा है कि केंद्रीय कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते  को मूल वेतन के 28 फीसदी से बढ़ाकर 31 फीसदी कर दिया गया है और ये 1 जुलाई 2021 से प्रभावी हो गया है.

वित्त मंत्रालय के तहत आने वाले व्यय विभाग ने कहा कि मूल वेतन का मतलब 7वें वेतन आयोग के अनुसार मिलने वाला वेतन है. इसमें कोई अन्य विशेष वेतन या भत्ता शामिल नहीं है. व्यय विभाग ने 25 अक्टूबर 2021 को जारी कार्यालय ज्ञापन में कहा कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों को देय महंगाई भत्ता 1 जुलाई 2021 से मूल वेतन के मौजूदा 28 फीसदी से बढ़ाकर 31 फीसदी किया जाएगा.

डीए में यह बढ़ोतरी रक्षा सेवाओं से वेतन पाने वाले असैन्य कर्मचारियों पर भी लागू होगी. वहीं, सशस्त्र बलों के कर्मियों और रेलवे कर्मचारियों के संबंध में रक्षा व रेल मंत्रालय अलग से आदेश जारी करेंगे. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले हफ्ते सरकारी कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ते और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई राहत (DR) को 3 फीसदी बढ़ाने की मंजूरी दे दी थी.

अगर आपकी बेसिक सैलेरी 18,000 रुपये है तो आपको अभी 28 फीसदी की दर से 5,030 रुपये डीए मिल रहा है. अब इसमें 3 फीसदी की बढ़ोतरी हो गई है. अब 31 फीसदी की दर पर आपको 5,580 रुपये डीए मिलेगा. दूसरे शब्‍दों में कहें तो कर्मचारियों का 18000 रुपये बेसिक वेतन होने पर 540 रुपये का इजाफा डीए में होगा. आपका बेसिक वेतन जितना ज्यादा होगा डीए भी उतना ही ज्यादा आएगा.