देश की राजधानी दिल्‍ली में अगले साल होने वाले नगर निगमों के चुनाव की तैयारियों को लेकर कांग्रेस की दिल्ली इकाई ने बड़ा ऐलान किया है. कांग्रेस दिल्‍ली की सत्‍ता पर काबिज केजरीवाल सरकार के साथ भाजपा शासित नगर निकायों को बेनकाब करने के लिए 25 अक्टूबर से पोल खोल यात्रा शुरू करेगी. इससे पहले भाजपा ने अगले साल चुनावों को देखते हुए ‘झुग्‍गी सम्‍मान यात्रा’ निकाली है. वहीं, आम आदमी पार्टी भी एमसीडी चुनावों को लेकर पिछले काफी दिनों से लगातार भाजपा पर हमला कर रही है.

दिल्ली कांग्रेस प्रमुख अनिल कुमार के मुताबिक, कांग्रेस की पोल खोल यात्रा 25 अक्‍टूबर से शुरू होगी, जो कि 70 दिनों तक चलेगी. इस दौरान दिल्‍ली के सभी 272 वार्ड से गुजरते हुए 700 किमी की दूरी तय की जाएगी.

कांग्रेस ने किया ये दावा

कांग्रेस के दिल्‍ली पीसीसी चीफ ने कहा कि हम पोल खोल यात्रा के दौरान भाजपा शासित दिल्ली नगर निगमों और दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के भ्रष्टाचार व अकर्मण्यता का खुलासा करेंगे. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि नगर निगमों में भाजपा के 15 साल के शासन में सफाई कर्मचारियों, शिक्षकों, नर्सों, डॉक्टरों और कर्मचारियों को कई महीनों से वेतन नहीं मिला है.

इसके साथ अनिल कुमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी और बीजेपी के नेता जेजे क्लस्टर्स, अनाधिकृत कॉलोनियों, पुनर्वास कॉलोनियों के लोगों से बड़े-बड़े वादे कर रहे हैं. इससे पहले भी इन्‍होंने तमाम वायदे किए थे, लेकिन किया कुछ नहीं. इस वजह से कांग्रेस को पोल खोल यात्रा निकालनी पड़ रही है और इस दौरान भाजपा के साथ आम आदमी पार्टी सरकार की पोल खोली जाएगी.