ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड और इनवेस्‍को समेत कंपनी के निवेशकों के बीच जारी विवाद में नया मोड़ आ गया है. इस मामले में बॉम्‍बे हाई कोर्ट ने ज़ी एंटरटेनमेंट को तगड़ा झटका दिया है. दरअसल, सुनवाई के दौरान बॉम्बे हाईकोर्ट ने ज़ी एंटरटेनमेंट को शेयरधारकों की असाधारण आम बैठक (ZEEL EGM) बुलाने का आदेश दिया है. हालांकि, जस्टिस जीएस की अदालत ने कहा कि इस ईजीएम में पारित प्रस्ताव को तब तक स्थगित रखा जाएगा, जब तक कोर्ट ईजीएम की मांग की वैधता पर फैसला नहीं कर लेता.

बता दें, ज़ी एंटरटेनमेंट की सबसे बड़ी निवेशक इनवेस्को ने कंपनी के प्रबंध निदेशक पुनीत गोयनका के साथ दो अन्य निदेशकों को हटाने के लिए ईजीएम बुलाने की मांग की थी. हाई कोर्ट ने कहा है कि ईजीएम में पारित होने वाला प्रस्‍ताव सूचना व प्रसारण मंत्रालय का मामला होगा. फिलहाल कोर्ट ने एमडी गोयनका और दो निदेशकों को हटाने के प्रस्‍ताव को स्थगित कर दिया है. बता दें कि ज़ी में इनवेस्‍को और उसके ओएफआई की मिलाकर करीब 18 फीसदी हिस्‍सेदारी है. वहीं, अकेली इनवेस्को की 7.74 फीसदी हिस्सेदारी है. इनवेस्‍को इस टीवी नेटवर्क में प्रबंधन और बोर्ड में बदलाव कराने की लगातार कोशिश कर रही है.