राजधानी दिल्‍ली के एलएनजेपी अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में आग लगने की खबर सामने आयी है. वहीं, आग लगने की सूचना मिलने के बाद दमकल की 10 गाड़ियों ने मौके पहुंचकर कड़ी मशक्‍कत के बाद आग पर काबू पा लिया है. जबकि आग की घटना से वार्ड में मौजूद मरीज और उनके तीमारदार घबरा गए थे. हालांकि इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. इसके अलावा अस्‍पताल प्रशासन ने आग लगने की घटना की जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक, सोमवार सुबह एलएनजेपी अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में अचानक आग लग गई. इसके बाद अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई.  हालांकि आग लगने की सूचना तुरंत दमकल विभाग को दे दी गई. इसके बाद मौके पर पहुंचीं फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियों ने आग पर काबू पाया. हालांकि आग लगने के बाद वहां मौजूद गार्ड्स और डॉक्‍टरों ने अस्‍पताल के स्टाफ के साथ मरीजों और उनके तीमारदारों को तत्‍काल बाहर निकाल लिया था.

दिल्ली दमकल सेवा के निदेशक अतुल गर्ग ने बताया कि अस्पताल के भूतल पर आपातकालीन वार्ड में स्थित सेमीनार कक्ष में चार्जिंग उपकरण, बैटरियों, गद्दों और अन्य सामान में रात को आग लग गयी थी. इसके साथ उन्होंने कहा, ‘हमें एलएनजेपी अस्पताल के आपातकालीन वार्ड में आग लगने के बारे में सूचना देर रात करीब 12 बजकर 20 मिनट पर मिली थी. इसके बाद दमकल की कई गाड़ियों को मौके पर भेजा गया था.

अगस्‍त में जच्चा-बच्चा वार्ड में लगी थी आग

इससे पहले अगस्‍त महीने में एलएनजेपी अस्‍पताल के जच्चा-बच्चा वार्ड के बाहर बने कमरे में लगे तारों में शॉर्ट सर्किट से आग लग गयी थी. इससे वजह से न सिर्फ परिसर में अफरा-तफरी मच गई थी बल्कि आग का धुआं जैसे ही वार्ड में पहुंचा तो डॉक्टरों और नर्सों ने वार्ड में भर्ती 24 महिलाओं व उनके नवजात शिशुओं को आनन-फानन में दूसरे वार्ड में शिफ्ट किय था. हालांकि अस्पताल के कर्मचारियों ने आग पर तत्काल काबू पा लिया था और इससे किसी को कोई जान माल का नुकसान नहीं हुआ था. बता दें कि एलएनजेपी दिल्ली के जाने माने अस्पतालों में से एक है.