केंद्र सरकार के तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर किसान पिछले काफी महीनों से आंदोलन कर रहे हैं. इस बीच सिंघु बॉर्डर पर एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. किसानों के मंच के पास एक युवक की बेरहमी से हत्या के बाद एक हाथ काटकर शव बैरिकेड से लटका दिया गया है. जबकि यह घटना गुरुवार रात हुई है. यही नहीं, युवक के शव को 100 मीटर तक घसीटा गया है. वहीं, जब शुक्रवार की सुबह आंदोलनकारियों ने मुख्य मंच के पास युवक का शव लटका देखा, तो हड़कंप मच गया.

यही नहीं, युवक के शरीर पर धारदार हथियार से हमले के निशान हैं. इस बीच एक हाथ कटा शव मिलने से सुबह से ही आंदोलनकारियों की भीड़ घटना स्थल पर जुटी हुई है. वहीं, आंदोलनकारी कुंडली थाना पुलिस को भी मौके पर नहीं आने दे रहे हैं. इस वक्‍त किसान जमकर हंगामा कर रहे हैं. हालांकि कुछ लोग निहंगों पर इस घटना का आरोप लगा रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक, युवक पर गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी का आरोप है.

जानकारी के मुताबिक, सिंघु बॉर्डर पर लगे संयुक्त किसान मोर्चा के मुख्य मंच के पास शव मिलने से हड़कंप मच गया. शव का एक हाथ कटा हुआ है, तो गर्दन पर भी तेजधार हथियार से हमले के निशान हैं. वहीं, इस घटना की सूचना के बाद कुंडली थाना प्रभारी रवि कुमार कड़ी मशक्‍कत के बाद मौके पर पहुंच गए हैं और मृतक की पहचान करने की कोशिश की जा रही है. फिलहाल पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.