पूर्वोत्तर में असम व मेघालय के बीच चल रहे सीमा विवाद के बीच दोनों राज्यों के अधिकारियों के बीच शनिवार को अहम मुलाकात होने जा रही है. यह मुलाकात असम के सिलचर में होगी. इस मुलाकात से पहले दोनों राज्यों के अधिकारियों ने सीमा विवाद सुलझाने के लिए पांच अक्तूबर को विवादित सीमा का साझा निरीक्षण किया था.

दोनों राज्यों के मंत्रियों का कहना था कि इस निरीक्षण का उद्देश्य सिर्फ विवाद की जमीनी हकीकत को समझना था. निरीक्षण के आधार पर कोई फैसला नहीं लिया गया है. कमेटियां अपनी-अपनी रिपोर्ट दाखिल करेंगी, उनका अध्ययन करने के बाद फैसला लिया जाएगा.

बता दें, इससे पहले सीमा विवाद मसले पर असम के मुख्यमंत्री हेमंता बिस्वा सरमा और मेघालय के सीएम कोनराड संगमा के बीच 23 जुलाई व छह अगस्त को मुलाकात हुई थी. इस मुलाकात के तीन दिन बाद ही दोनों राज्यों के बीच सीमा विवाद को लेकर हिंसा फैल गई थी. दोनों राज्यों की पुलिस आपस में भिड़ गई थी, जिसमें कई मौतें भी हुई थीं.

12 साल पुराना है विवाद

असम और मेघालय के बीच यह सीमा विवाद करीब 12 साल पुराना है. दोनों राज्य सरकारों के बीच छह क्षेत्रों में मामूली मतभेत है. वार्ता के पहले चरण में राज्य सरकारें इन क्षेत्रों के मामूली विवाद को खत्म करना चाहती हैं.