डेनमार्क की पीएम मेटे फ्रेडरिकसेन का आज राष्ट्रपति भवन में जोरदार स्वागत किया गया. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने उनकी अगवानी की. राष्ट्रपति भवन पहुंचने के बाद  फ्रेडरिकसेन ने बयान जारी करते हुए कहा कि हम भारत को एक बहुत करीबी पार्टनर मानते हैं. मैं इस यात्रा को डेनमार्क-भारत द्विपक्षीय संबंधों के लिए एक मील के पत्थर के रूप में देखती हूं. बता दें कि पीएम फ्रेडरिकसन अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर भारत आई हुई हैं, इस दौरान वह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगी और पीएम मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगी.

प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिकसेन पीएम मोदी के साथ ‘हरित सामरिक गठजोड़’ के क्षेत्र में प्रगति की समीक्षा करने के साथ द्विपक्षीय संबंधों के विविध आयामों पर चर्चा करेंगी. भारत-डेनमार्क के बीच बातचीत के दौरान तकनीकी और कारोबारी सहयोग संबंधित मुद्दों के साथ-साथ पुरूलिया हथियार कांड के आरोपी किम डेवी के प्रत्यर्पण का मुद्दा भी होगा. कोरोना काल में बीते 20 महीनों के दौरान यह किसी प्रधानमंत्री की पहली भारत यात्रा है.

बता दें, डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिकसेन रविवार को ताजमहल और आगरा किला का दीदार करेंगी. उनके दौरे के कारण रविवार सुबह ताजमहल और आगरा किला पर्यटकों के लिए बंद किया जाएगा. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के अधीक्षण पुरातत्वविद ने शुक्रवार को ताज और किला बंद करने की सूचना जारी कर दी. इसके मुताबिक रविवार सुबह 8.30 बजे से 10.30 बजे तक ताजमहल पर्यटकों के लिए बंद रहेगा, जबकि आगरा किला को सुबह 9.50 बजे से 11.50 बजे तक बंद रखा जाएगा. डेनमार्क की प्रधानमंत्री आज रात को विशेष विमान से सीधे खेरिया हवाई अड्डे पर पहुंचेंगी, जहां उनका भव्य स्वागत किया जाएगा.