दिल्ली के सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर आ रही है. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने अपने अहम आदेश में कहा कि दिल्ली के सभी सरकारी कर्मचार‍ियों को 15 अक्‍टूबर तक कोरोना वैक्‍सीन की पहली डोज लेनी ही होगी. अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो अनुपस्‍थ‍ित मानते हुए ‘आन लीव’ मार्क कि‍या जाएगा, यानी अनुपस्थिति की स्थिति में सैलरी भी कटेगी.

गौरतलब है कि द‍िल्‍ली आपदा प्रबंधन प्राध‍िकरण की ओर से शुक्रवार को जारी आदेश के मुताबिक, सरकारी कर्मचार‍ियों को 15 अक्‍टूबर तक कोरोना वैक्‍सीन डोज लेना अन‍िवार्य है. ऐसे में अगर कोई इसका अनुपालन नहीं करेगा तो उसको अनुपस्थिति माना जाएगा. इससे पहले 30 सितंबर को डीडीएमए ने अपने आदेश में सिर्फ शिक्षकों के लिए कोरोना का टीका लेना अनिवार्य लिया था, लेकिन अब यह आदेश सभी सरकारी शिक्षकों पर  लागू होगा.

डीडीएमए के स्‍टेट एग्‍जीक्‍यूट‍िव कमेटी के चेयरपर्सन और द‍िल्‍ली के चीफ सेक्रेटरी व‍िजय देव की ओर से यह अहम आदेश शुक्रवार को जारी किया गया. इसमें साफ और स्‍पष्‍ट आदेश द‍िए गए हैं क‍ि 15 अक्‍टूबर से पहले सभी सरकारी कर्मचारी अपना कोरोना वैक्‍सीनेशन करवा लें. वरना उन्हें अनुपस्थित माना जाएगा.