पंजाब कांग्रेस के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने उत्‍तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई किसानों की हत्‍या के खिलाफ गुरुवार को कांग्रेस का मार्च शुरू किया. वह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ लखीमपुर खीरी जा रहे हैं. इसके साथ ही उन्‍होंने चेतावनी दी है कि अगर कल (8 अक्‍टूबर) तक मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो वह भूख हड़ताल पर बैठेंगे.

मोहाली के एयरपोर्ट चौक से नवजोत सिंह सिद्धू का काफिला गुरुवार को लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो चुका है. इस दौरान वहां पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी भी मौजूद रहे. नवजोत सिंह सिद्धू के साथ पंजाब के कैबिनेट मंत्री और कुछ विधायक भी इस प्रदर्शन में शामिल हैं. सिद्धू ने कहा है कि कुछ भी हो जाए, लेकिन वह कर्तव्यपथ पर डटे रहेंगे.

बता दें कि सिद्धू ने पिछले दिनों कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था, हालांकि उसे पार्टी ने अभी तक स्वीकार नहीं किया है. इससे पहले सिद्धू ने मंगलवार को भी चेतावनी दी थी कि अगर किसानों की हत्या के सिलसिले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे को गिरफ्तार नहीं किया गया, तो कांग्रेस की पंजाब इकाई उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के लिए कूच करेगी.