लखीमपुर में घटे घटनाक्रम के बाद पंजाब सरकार ने वहां मारे गए पत्रकार समेत किसान परिवारों को 50-50 लाख रुपये देने की घोषणा की है. पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि लखीमपुर की घटना में पत्रकार समेत जो किसान मारे गए हैं, उनके परिवारों को पंजाब सरकार की ओर से 50 – 50 लाख रुपये दिए जाएंगे.

चन्नी ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी से हुई बातचीत के बाद उन्होंने यह फैसला किया है मालूम हो कि उत्तर प्रदेश सरकार ने मृतक किसानों के परिवारों को 45 -45 लाख रुपये देने की घोषणा की थी. उत्तर प्रदेश सरकार ने उसके चेक भी पीड़ितों को दे दिए. अब चूंकि इस मामले के बाद पंजाब में सियासत गरमा गई है, इसलिए पंजाब के नेताओं ने लखीमपुर खीरी का रुख कर दिया है. पंजाब और हरियाणा के अधिकतर किसान इस समय कृषि कानूनों को लेकर आंदोलनरत हैं. लिहाजा हरियाणा के कांग्रेस नेताओं ने भी लखीमपुर जाकर पीड़ितों को सांत्वना देने की ठानी है.

इसी तरह की घोषणा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी की है. बघेल ने कहा कि लखीमपुर की घटना हृदय विदारक है. छत्तीसगढ़ भी किसानों का प्रदेश है. लखीमपुर के किसानों का दुख बांटना हम सबका काम है. प्रत्येक उस किसान परिवार को 50 लाख रुपये दिए जाएंगे, जिन परिवारों ने अपने सदस्यों को खोया है. साथ ही मारे गए पत्रकार के परिवार को भी 50 लाख रुपये देने की छत्तीसगढ़ सरकार घोषणा करती है.