सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म फेसबुक, वॉट्सऐप और इंस्‍टाग्राम की सेवाएं 4 अक्‍टूबर 2021 की रात कई घंटों तक बाधित रहीं. फेसबुक को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ी थी. कुछ ही घंटे तक सर्वर डाउन रहने से कंपनी को अरबों रुपये का नुकसान बर्दाश्‍त करना पड़ा है. अब कंपनी ने सर्वर डाउन होने की वजह बताई है. फेसबुक ने बताया है कि रेग्‍युलर मेंटेनेंस के दौरान आई खामी से सर्वर डाउन हो गया. फेसबुक के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर वाइस प्रसिडेंट संतोष जनार्दन ने कहा कि हमारी सेवाएं किसी दुर्भावनापूर्ण गतिविधि के कारण नहीं, बल्कि हमारी अपनी गलती के कारण बाधित हुई थीं.

जनार्दन ने बताया कि यह समस्या तब शुरू हुई, जब इंजीनियर फेसबुक के ग्‍लोबल नेटवर्क पर रोजमर्रा का काम कर रहे थे. इस नेटवर्क में दुनियाभर के सेंटर्स के कंप्यूटर, राउटर और सॉफ्टवेयर फाइबर-ऑप्टिक केबल से जुड़े हैं. नियमित रखरखाव के दौरान एक गलत कमांड से फेसबुक डाटा सेंटर डिस्कनेक्ट हो गए. उन्होंने कहा कि फेसबुक सिस्‍टम को ऐसी गलतियों को पकड़ने के लिए डिजाइन किया गया है, लेकिन इस मामले में ऑडिट टूल में एक बग के कारण ऐसा नहीं हो सका. उस बदलाव के कारण एक दूसरी समस्या पैदा हो गई और फेसबुक के सर्वर तक पहुंचना मुश्किल हो गया. हालांकि, वे काम कर रहे थे.

फेसबुक के इंजीनियर्स ने समस्या को ठीक करने की कोशिश की, लेकिन कई सिक्‍योरिटी लेयर्स के कारण इसमें समय लग गया. जर्नादन ने कहा कि डाटा सेंटर्स में एंट्री लेना कठिन होता है. एक बार जब आप अंदर पहुंच जाते हैं तो हार्डवेयर और राउटर को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि फिजिकल पहुंच होने पर भी उनमें संशोधन करना मुश्किल हो. बता दें कि कुछ घंटों के लिए ठप हुए फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सऐप और एक विह्सलब्लोअर के खुलासों ने कंपनी के सीईओ मार्क जकरबर्ग को भारतीय मुद्रा में करीब 447 अरब रुपये (600 करोड़ डॉलर) से ज्‍यादा का नुकसान पहुंचाया.