रिलायंस इंटरनेशनल कच्चे तेल, पेट्रोलियम उत्पादों और कृषि वस्तुओं के व्यापार के लिए संयुक्त अरब अमीरात में एक नई सहायक कंपनी के तौर पर शामिल हुई है. एक्सचेंज फाइलिंग करते हुए कंपनी ने यह जानकारी उपलब्ध कराई है. कंपनी ने जानकारी देते हुए यब बताया है कि, रिलायंस इंटरनेशनल लिमिटेड को अबू धाबी ग्लोबल मार्केट, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी के रूप में शामिल किया गया है.

फाइलिंग में यह कहा गया है कि, “कंपनी ने ‘रिलायंस इंटरनेशनल लिमिटेड’ के हर एक 1 अमेरिकी डॉलर के 10 लाख इक्विटी शेयरों में 7.42 करोड़ रुपये या 10 लाख अमेरिकी डॉलर नकद में निवेश किया है. कंपनी की तरफ से इस योजना की घोषणा इस साल जून महीने में ही की गई थी. कंपनी की तरफ से की गई घोषणा में यह कहा गया था कि, “भारतीय समूह अबू धाबी नेशनल ऑयल कंपनी की परियोजनाओं में निवेश करेगा ताकि उन रसायनों का उत्पादन किया जा सके जिनका उपयोग बुनियादी ढांचे और उपभोक्ता वस्तुओं के लिए किया जा सकता है.

रिलायंस ने इस बारे में जानकारी देते हुए यह बताया है कि “आरआईएनएल को कच्चे तेल, पेट्रोलियम उत्पादों, पेट्रोकेमिकल्स और कृषि वस्तुओं के व्यापार से संबंधित गतिविधियों को करने के लिए शामिल किया गया है. हालांकि, आरआईएनएल ने अभी तक अपना व्यवसाय संचालन शुरू नहीं किया है.

बता दें, रिलायंस गुजरात के जामनगर में दुनिया के सबसे बड़े तेल शोधन परिसर का संचालन करती है और देश में इसकी कई पेट्रोकेमिकल इकाइयां हैं.