देश की राजधानी में बीते कुछ महीने से कोरोना के सामान्य हुए हालातों को देखते हुए दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने धार्मिक स्थलों पर लोगों के आने-जाने की अनुमति दे दी है. हालांकि इसके लिए लोगों को और धार्मिक स्थल के प्रशासन को कई बातों का ध्यान रखना होगा.

डीडीएमए ने अपने आदेश में कहा है धार्मिक स्थल भले ही भक्तों के लिए खोले जा रहे हों लेकिन उन्हें और धार्मिक स्थल के प्रशासन को कोरोना के संबंध में स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी सभी नियम-कायदों का पूरी तरह से पालन करना होगा. डीडीएमए का यह आदेश 15 अक्तूबर या अगले आदेश तक मान्य होगा.

त्योहारी सीजन की शुरुआत होने से पहले दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने कोरोना संबंधित दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं. एक दिन पहले उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में हुई डीडीएमए की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए थे. इसे लेकर बृहस्पतिवार को डीडीएमए ने आधिकारिक रूप से दिशा-निर्देश जारी किए. आदेश के अनुसार, घाटों और खुले स्थान पर छठ पूजा का पर्व मनाने की अनुमति नहीं है.