प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी न्यूयॉर्क पहुंच गए हैं. आज वो संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र को संबोधित करेंगे. पीएम मोदी का यहां पहुंचते ही ज़ोरदार स्वागत किया गया. जिस होटल में पीएम मोदी ठहरे हैं उसके बाद भारतीय मूल के लोगों की भारी भीड़ जमा है. पीएम मोदी के स्वागत में लोगों ने यहां ‘वंदे मातरम्’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए. पीएम मोदी बुधवार को तीन दिवसीय यात्रा पर वॉशिंगटन पहुंचे थे. यह उनकी यात्रा अंतरिम चरण है.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वॉशिंगटन में भी जमकर स्वागत हुआ था. वहां उन्होंन राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात की थी.

वहीं अमेरिका के एक प्रभावशाली सांसद ने सदन में कहा कि अमेरिका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करके गौरवान्वित महसूस कर रहा है. उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच संबंध लोकतंत्र, स्वतंत्रता और कानून के राज के सिद्धांतों से गहरे जुड़े हुए हैं.

पीएम मोदी की अमेरिकी यात्रा 25 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा में एक संबोधन के साथ संपन्न होगी. संयुक्त राष्ट्र में वो कोविड-19 महामारी, आतंकवाद से निपटने की आवश्यकता, जलवायु परिवर्तन और अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों सहित वैश्विक चुनौतियों पर बोल सकते हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को अपने ऑस्ट्रेलियाई और जापानी समक्षकों के साथ क्वाड नेताओं के पहले व्यक्तिगत शिखर सम्मेलन में शामिल हुए जिसकी मेजबानी अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने की. इस दौरान जलवायु परिवर्तन, कोविड-19 महामारी और हिंद-प्रशांत क्षेत्र की चुनौतियों के मुद्दे पर चर्चा होने की उम्मीद है. रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण इस क्षेत्र में चीन के बढ़ते सैन्य दखल के बीच ये चर्चा होगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ अपनी पहली द्विपक्षीय बैठक के तहत शुक्रवार को व्हाइट हाउस में जो बाइडेन से मुलाकात की और इस दौरान दोनों नेताओं ने कोविड-19 एवं जलवायु परिवर्तन, व्यापार और हिंद-प्रशांत सहित प्राथमिकता वाले कई मुद्दों पर चर्चा की. राष्ट्रपति बाइडेन ने व्हाइट हाउस के ओवल ऑफिस में प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत करते हुए कहा कि वे आज अमेरिका-भारत के संबंधों का एक नया अध्याय शुरू कर रहे हैं.